बुलंदशहर: प्रसव पीड़ा से तड़प रही महिला को नहीं किया एडमिट, नाली के पास दिया बच्चे को जन्म

घटना महिला जिला अस्पताल की है. जहां गर्भवती महिला अस्पताल में दर्द से चार घंटे से अधिक तड़पती रही. परिजन उसे इधर स उधर लेकर जाते, लेकिन कोई सुनने वाला नहीं था.

News18 Uttar Pradesh
Updated: September 11, 2018, 4:10 PM IST
बुलंदशहर: प्रसव पीड़ा से तड़प रही महिला को नहीं किया एडमिट, नाली के पास दिया बच्चे को जन्म
पीड़ित महिला
News18 Uttar Pradesh
Updated: September 11, 2018, 4:10 PM IST
यूपी के बुलंदशहर में मंगलवार को स्वास्थ्य विभाग की बड़ी लापरवाही देखने को मिली. प्रसव पीड़ा से तड़प रही महिला को देखकर भी जिला महिला अस्पताल के डॉक्टरों का दिल नहीं पसीजा और उसे एडमिट नहीं किया गया. जिसके बाद महिला ने अस्पताल के करीब नाली के पास बच्चे को जन्म दिया. मामला सामने आने के बाद अस्पताल प्रशासन में हड़कंप मच गया. मौके पर पहुंचे सीएमएस ने जांच के आदेश दे दिए है. सीएमएस के मुताबिक जांच रिपोर्ट आने के बाद दोषी डाॅक्टरों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

दरअसल, बालके गांव की रहने वाली रूपमती नाम की गर्भवती महिला को परिजन जिअला महिला अस्पताल लेकर पहुंचे थे. अस्पताल में महिला प्रसव पीड़ा घंटों तड़पती रही, लेकिन डॉक्टरों और अस्पताल के स्टाफ ने कोई सुध नहीं ली. इस दौरान परिजन उसे इधर स उधर लेकर दौड़ते रहे और मिन्नतें करते रहे. लेकिन किसी का भी दिल नहीं पसीजा. एडमिट करने की जगह स्टाफ ने कह दिया कि डॉक्टर ऑपरेशन थिएटर में हैं. बेचारी गर्भवती महिला इस दौरान चार बार जमीन पर गिर गई. इसके बाद परिजनों ने उसे अस्पताल के बाहर नाली के पास लेटा दिया, जहां उसने एक बच्चे को जन्म दिया. इसकी सूचना मिलते ही हॉस्पिटल प्रशासन में हड़कंप मच गया. आनन-फानन में पीड़िता को वार्ड में शिफ्ट कर दिया गया.

इस बाबत जब जिला महिला अस्पताल की मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ वीणा रानी से पूछा गया तो उन्होंने बताया कि डिलेवरी का सभी कार्य अस्पताल की नई बिल्डिंग में चल रहा है. महिला के परिजनों को इसकी जानकारी नहीं थी. जागरूकता की कमी के कारण गर्भवती महिल ने अस्पताल परिसर में बच्चे को जन्म दिया है. उन्होंने कहा कि जच्चा और बच्चा दोनों स्वस्थ हैं.

(रिपोर्ट: सैय्यद अली शरर)

ये भी पढ़ें:

अमरोहा: प्लास्टिक के बोरे में नवजात बच्ची मिलने से मचा हड़कंप

...तो इस तरह राहुल गांधी पर 'दबाव' बना रही हैं बसपा सुप्रीमो मायावती!
Loading...
मिशन 2019 के लिए पीके की तरह अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी को मिला 'AK'!

 

 

 
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर