बुलंदशहर में 45+ के व्यापारी वैक्सीन लगवा लें, वरना नहीं खोल पाएंगे दुकान, देखें Video

दुकानदारों से अपील करती पुलिस.

दुकानदारों से अपील करती पुलिस.

Bulandshahar Viral Video: यूपी के बुलंदशहर में पुलिस ने व्यापारियों, ई-रिक्शा चलाने वाले 45 साल से ऊपर के लोगों से वैक्सीन लगाने की अपील की. पुलिस ने घोषणा की है कि टीकाकरण न कराने वालों को लॉकडाउन हटने के बाद व्यापारिक प्रतिष्ठान पर बैठने की अनुमति नहीं मिलेगी.

  • Share this:

बुलंदशहर. उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर (Bulandshahr) में पुलिस ने बड़ा फैसला लिया है. पुलिस ने ई-रिक्शा चलाने वाले और व्यापारियों को लॉकडाउन हटने पर अपनी-अपनी दुकानें खोलने की अनुमति दे दी है. लेकिन इसके साथ ही कुछ शर्तें भी रखी गई हैं.  बुलंदशहर पुलिस ने मार्केट में घूम-घूम कर व्यापारियों से अपील की है कि जिनकी उम्र 45 साल से अधिक है और जिन्होंने कोरोना वायरस का टीका लगवा लिया है, सिर्फ उन्हीं लोगों को लॉकडाउन (Lockdown) हटने पर अपनी-अपनी दुकानें खोलनी की अनुमति दी जाएगी. सभी को कोविड नियमों का पालन करना होगा.

इसके साथ ही पुलिस ने ये चेतावनी भी दी है कि जिन व्यापारियों की उम्र 45 साल अधिक है और जिन्होंने कोरोना का टीका नहीं लगवाया है, उन्हें प्रतिष्ठान पर बैठने नहीं दिया जाएगा. दरअसल, उत्तर प्रदेश में अभी भी कोरोना वायरस के रोज सैकड़ों मामले सामने आ रहे हैं. साथ ही कई मरीजों की मौत भी हो रही है. यही वजह है कि पुलिस ने यह फैसला लिया है.


यूपी में कोरोना वायरस के साथ-साथ ब्लैक फंगस से लोगों के पीड़ित होने और मौत की खबरें भी आ रही हैं. बीते दिनों वाराणसी में ब्लैक फंगस के संक्रमण से 8 लोगों की मौत हो गई है. प्रदेश में अब तक ब्लैक फंगस के कारण 32 मरीजों की जान जा चुकी है. सबसे डरावनी बात यह है कि इस बीमारी के कारण 30 लोगों का ऑपरेशन कर आंखें निकालनी पड़ी हैं. मरीजों का आंकड़ा 145 जा पहुंचा है. बीते गुरुवार को 7 नए मरीज भी बीएचयू के ब्लैक फंगस वार्ड में भर्ती कराए गए हैं.
बीएचयू के सर सुंदर लाल अस्पताल में दो वार्ड बनाये गए हैं, जिनमें कुल 80 बेड हैं जो फुल हो चुके हैं. बढ़ते मरीजों के इलाज के लिए नए वार्ड बनाए गए हैं, जिनमें बेड की संख्या 70 रखी गयी है. बीएचयू के सर सुंदर लाल अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक डॉ. केके गुप्ता ने बताया कि हॉस्पिटल में मरीजों को पूरी सुविधा दी जा रही है. उनके इलाज के लिए पर्याप्त स्थान और बेड मौजूद हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज