Home /News /uttar-pradesh /

Sikandrabad Assembly Seat: लगातार दो बार तो कई लोग विधानसभा पहुंचे, जीत की हैट्रिक कोई नहीं लगा पाया

Sikandrabad Assembly Seat: लगातार दो बार तो कई लोग विधानसभा पहुंचे, जीत की हैट्रिक कोई नहीं लगा पाया

UP Chunav 2022: सिकंदराबाद विधानसभा सीट पर क्या है चुनावी माहौल.

UP Chunav 2022: सिकंदराबाद विधानसभा सीट पर क्या है चुनावी माहौल.

Sikandrabad Assembly Seat Election: 1977 के बाद से सिकंदराबाद सीट से दो बार कांग्रेस, दो बार जनता दल और दो बार बहुजन समाज पार्टी ने चुनाव जीता है. भारतीय जनता पार्टी यहां तीन बार जीत चुकी है, वहीं समाजवादी पार्टी को सिर्फ एक बार ही कामयाबी मिली है. आजादी के बाद से अब तक हुए 16 चुनावों में यहां से लगातार तीन बार कोई भी उम्मीदवार नहीं जीत सका है.

अधिक पढ़ें ...

बुलंदशहर. आजादी के बाद से अब तक हुए 16 चुनावों में सिकंदराबाद विधानसभा सीट से चार विधायक ऐसे रहे जिन्‍होंने लगातार दो बार जीत दर्ज की है, लेकिन आज तक जीत की हैट्रिक कोई नहीं लगा पाया. बुलंदशहर जिले के अंतर्गत आने वाली यह सीट गौतमबुद्धनगर संसदीय क्षेत्र का हिस्‍सा है. वर्तमान में भाजपा विधायक विमला सोलंकी का भी यह दूसरा कार्यकाल है. देखना यह है कि तीन बार न जीतने का तिलिस्‍म वह तोड़ पाती हैं कि नहीं.

सिकंदराबाद ऐतिहासिक नगर है. इसे लोदी वंश के दूसरे शासक सिकंदर लोदी ने 1498 में बसाया था. आईने अकबरी के मुताबिक सिकंदराबाद दिल्‍ली सरकार का एक परगना था. राष्‍ट्रीय राजधानी क्षेत्र में आने वाला यह नगर ग्रेटर नोएडा से सटा हुआ है. जेवर में निर्माणाधीन नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट भी इस नगर के करीब ही है. कई औद्योगिक गतिविधियों का केंद्र यह नगर मशहूर गीतकार संतोष आनंद, उपन्‍यासकार आचार्य चतुर सेन जैसी शख्‍सियत दे चुका है.

इस सीट पर 3.5 लाख के करीब कुल वोटर हैं. इसमें सबसे अधिक मुस्‍लिम वोटर हैं, जिनकी संख्‍या करीब 90 हजार है. क्षत्रिय 70 हजार, अनुसूचित जाति के वोटर भी 70 हजार के करीब हैं. 2012 से भाजपा की विमला सोलंकी विधायक हैं. 2012 में मात्र 123 वोट से जीतने वालीं विमला सोलंकी को 2017 में भाजपा के पक्ष में चली हवा का फायदा मिला और बसपा के मोहम्‍मद इमरान को 28 हजार से अधिक वोटों से शिकस्‍त देने में कामयाब रहीं. 1977 के बाद से इस सीट पर कांग्रेस, जनता दल और बसपा दो-दो बार जीतने में कामयाब रहीं. भाजपा तीन बार तो समाजवादी पार्टी सिर्फ एक बार जीत पाई है.

Tags: Bulandshahr news, UP Election 2022, UP news

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर