बुलंदशहर: 3 लाख की सुपारी देकर कराई पति की हत्या, अवैध संबंधों में बन रहा था रोड़ा

तब्स्सुम पर आरोप है कि उसने अपने पति योगेश देशवाल को रास्ते से हटाने के लिए प्रेमी संजीव फौजी को 3 लाख रूपये की सुपारी दी थी. क्योंकि उसका पति अवैध संबंधों में बाधक बन रहा था.

News18 Uttar Pradesh
Updated: July 23, 2018, 4:46 PM IST
बुलंदशहर: 3 लाख की सुपारी देकर कराई पति की हत्या, अवैध संबंधों में बन रहा था रोड़ा
पुलिस की गिरफ्त में पति की हत्या की आरोपी पत्नी तबस्सुम
News18 Uttar Pradesh
Updated: July 23, 2018, 4:46 PM IST
यूपी के बुलंदशहर में कानून की पढ़ाई कर रही एक विवाहिता ने अपने ही प्रॉपर्टी डीलर पति की हत्या 3 लाख रुपए की सुपारी देकर करवा दी. पुलिस ने हत्यारोपी पत्नी को उसके फौजी प्रेमी व एक अन्य शूटर को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है. साथ ही हत्या में प्रयुक्त तमंचा बरामद कर लिया है. हालांकि, हत्या के बाद पत्नी को कोई मलाल नहीं है. उसका कहना है कि पति इंसान नहीं था. 8 सालों से वह उसका अत्याचार झेल रही थी.

पुलिस की गिरफ्त में आई जहांगीराबाद की रहने वाली तबस्सुम ने अपने प्रेमी संजीव फौजी और शूटर चुन्ना के साथ मिलकर इस घटना को अंजाम दिया. तब्स्सुम पर आरोप है कि उसने अपने पति योगेश देशवाल को रास्ते से हटाने के लिए प्रेमी संजीव फौजी को 3 लाख रूपये की सुपारी दी थी. क्योंकि उसका पति अवैध संबंधों में बाधक बन रहा था.

दरअसल योगेश देशवाल जहांगीराबाद में प्रॉपर्टी डीलिंग का काम करता था. 9 साल पहले तबस्सुम की शादी योगेश के साथ हुई थी. इस बीच तब्स्सुम का अपने ही पति के दोस्त संजीव फौजी के साथ अवैध संबंध बन गया. जिसके बाद योगेश दोनों के बीच रोड़ा बनने लगा. इसके बाद तबस्सुम ने पति के कत्ल की साजिश रच डाली.

साजिश के तहत 16 जुलाई 2018 को संजीव फौजी योगेश को प्लाट दिखाने के बहाने घर से ले गया और जहां शूटरों ने योगेश की गोली मारकर हत्या कर दी. 18 जुलाई 2018 को योगेश का शव पुलिस ने बरामद किया. जिसके बाद तो योगेश की पत्ली ने ही अज्ञात हत्यारों के खिलाफ केस दर्ज करा दिया. जिसके बाद पुलिस ने तबस्सुम को शक के आधार पर हिरासमत में लेकर पूछताछ की तो उसने कत्ल की साजिश का राजफाश कर दिया. पुलिस ने पत्नी, उसके प्रेमी संजीव फौजी व एक शूटर चुन्ना को गिरफ्तार कर लिया है. अन्य तीन शूटरों की तलाश में जुटी है. पुलिस ने हत्यारोपियो की निशानदेही पर आला कत्ल भी बरामद कर लिया.

तबस्सुम की मानें तो 8 साल से पति योगेश शराब पीकर परेशान कर रहा था. ना सोने देता था, न जीने देता था. इसीलिए अपने पति के कत्ल की सुपारी दी और हत्या करा दी. तब्स्सुम को पति की हत्या कराने का कोई मलाल नहीं है. उसने यह भी कहा की संजीव उसका प्रेमी नहीं है, बल्कि उसने हत्या में उसका सहयोग लिया. लखनऊ में तैनात है और प्रेमिका के कहने पर ही उसके पति को ठिकाने लगाने बुलन्दशहर आया था.

(रिपोर्ट: सैय्यद अली शरर)
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर