केंद्र ने हाथरस गैंगरेप केस किया सीबीआई गाजियाबाद के हवाले, देशद्रोह जैसे FIR की भी होगी जांच

अब सीबीआई गाजियाबाद करेगी हाथरस गैंगरेप केस की जांच.
अब सीबीआई गाजियाबाद करेगी हाथरस गैंगरेप केस की जांच.

इसके अलावा हाथरस में हुए उग्र धरना प्रदर्शन के बाद यूपी पुलिस द्वारा दर्ज राजद्रोह (sedition) और राज्य सरकार के खिलाफ साजिश रचने जैसे सभी मामलों की भी जांच सीबीआई करेगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 11, 2020, 1:07 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. उत्तर प्रदेश के हाथरस गैंगरेप और हत्या (Hathras Gangrape Case) मामले की जांच अब सीबीआई (CBI) करेगी. सीबीआई की गाजियाबाद यूनिट उन मामलों में केस को दोबारा रजिस्टर्ड करेगी, जिन्हें यूपी पुलिस ने दर्ज किया था. इसके अलावा हाथरस में हुए उग्र धरना प्रदर्शन के बाद यूपी पुलिस द्वारा दर्ज राजद्रोह (sedition) और राज्य सरकार के खिलाफ साजिश रचने जैसे सभी मामलों की भी जांच सीबीआई करेगी. केंद्र सरकार की डीओपीटी विभाग के नोटिफिकेशन के बाद सीबीआई ने हाथरस केस को टेकओवर किया है. जल्द सीबीआई हाथरस केस की जांच शुरू करेगी. इससे पहले योगी सरकार ने हाथरस कांड की जांच के लिए सुप्रीम कोर्ट से गुजारिश की थी कि सीबीआई जांच सुप्रीम कोर्ट की देखरेख में हो. अधिकारियों ने कहा कि जैसे ही केस रजिस्टर्ड होगा, सीबीआई की टीम फरेंसिक जांच दल के साथ तुरंत हाथरस रवाना कर दी जाएगी.

अभी तक हाथरस कांड की जांच एसआईटी कर रही थी. हाल ही में इस जांच को पूरा करने के लिए यूपी सरकार ने 10 दिनों का और वक्त दे दिया था, ताकि सच सामने आ सके. माना जा रहा था कि इस मामले में लगातार बढ़ते पेच की वजह से सरकार ने ये फैसला लिया, लेकिन अब ये मामला सीबीआई के पास पहुंच गया है.

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश के हाथरस में कथित बलात्कार पीड़िता के दाह संस्कार के वक्त का एक और वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था. इस वायरल वीडियो में साफ दिख रहा है किस तरह पुलिस व प्रशासन के लोगों ने लाश जलाई. पीड़िता के शव को जल्दी जलाने के लिए ज्वलनशील पदार्थ का भी इस्तेमाल किया गया. वीडियो में दिख रहा है कि केन से चिता पर लिक्विड का छिड़काव किया जा रहा है. इस वीडियो में वर्तमान एसएचओ लक्ष्मण सिंह भी शव जलाते दिखाई दे रहे हैं. कोतवाली चंदपा के और भी कई पुलिसकर्मी वीडियो में कैद हुए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज