चित्रकूट: जहरीली शराब पीने से 4 लोगों की मौत से मचा कोहराम, 3 की हालत नाजुक

चित्रकूट में जहरीली शराब पीने से 4 लोगों की मौत से मचा कोहराम

चित्रकूट में जहरीली शराब पीने से 4 लोगों की मौत से मचा कोहराम

चित्रकूट धाम मंडल के आईजी (IG) के सतनारायण का कहना है कि अभी तक जांच में सामने आया है कि मस्ती देसी ब्रांड की शराब का सेवन गांव वालों ने की थी.

  • Share this:
चित्रकूट. यूपी के चित्रकूट (Chitrakoot) जिले में राजापुर थाना क्षेत्र के खोपा गांव में जहरीली शराब (Poisonous Liquor) पीने से चार लोगों की मौत हो गई जबकि तीन लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है. हालत गंभीर होने के चलते दोनों को राजापुर से प्रयागराज रेफर किया गया है. सूचना के बाद मौके पर चित्रकूट धाम मंडल के आईजी के सतनारायण और कमिश्नर डीपी सिंह मौके पर पहुंच गए हैं और पूरी घटना की जानकारी ली. ग्रामीणों द्वारा बताया जा रहा है कि कल पंचायत चुनाव की आरक्षण सूची जारी होने के बाद गांव की समान्य सीट आने की वजह से कुछ लोग देसी अवैध शराब का सेवन कर रहे थे.

जिसकी वजह से रात में सीताराम की हालत बिगड़ने से प्राइवेट इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई थी और 5 लोगों की हालत बेहद खराब हो गई थी जिसके बाद उन्हें इलाज के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया था. जहां मुन्ना नाम के व्यक्ति की समुदायिक स्वास्थ्य केंद्र राजापुर में मौत हो गई थी और बाकी चार लोगों को प्रयागराज के लिए रेफर कर दिया गया था. जिसमें रास्ते में सत्यम और दुर्गविजय की मौत हो गई है बाकी 2 लोगों को इलाज के लिए प्रयागराज भेजा गया है.

UP Panchayat Chunav: आरक्षण से बदले सियासी समीकरण, पहली बार सैफई में नहीं बनेगा 'मुलायम कुनबा' का प्रधान

जिसमें विवेक और बबली का इलाज किया जा रहा है. सूचना के बाद मौके पर पहुंचे जिलाधिकारी शुभ्रांत शुक्ला और पुलिस अधीक्षक अंकित मित्तल ने मौके पर पहुंच कर जांच पड़ताल शुरू कर दी थी. तभी गांव के ग्राम प्रधान की भी जहरीली शराब पीने से उसकी हालत बिगड़ने लगी जिस को इलाज के लिए सामुदायिक स्वास्थ केंद्र राजापुर भेजा गया है. चित्रकूट धाम मंडल के आईजी के सतनारायण और कमिश्नर डीपी सिंह ने गांव पहुंचते हुए पूरी घटना की जानकारी ली है और लापरवाही बरतने वाले हलका इंचार्ज बृजेश पांडे और बीट सिपाही को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है.
बड़े अधिकारियों के खिलाफ होगी कार्रवाई - आईजी

चित्रकूट धाम मंडल के आईजी के सतनारायण का कहना है कि अभी तक जांच में सामने आया है कि मस्ती देसी ब्रांड की शराब का सेवन गांव वालों ने की थी. जिसमें 4 लोगों की मौत हो गई है और 3 लोगों की हालत गंभीर बताई जा रही है. आईजी के मुताबिक गांव से 15 किलोमीटर की दूरी पर देसी शराब के ठेके से कुछ लोगों ने बेचने के लिए गांव पर ले आए थे और वहीं से इस देसी शराब को बेचा जा रहा था. जिसके बाद उन लोगों हिरासत में ले लिया गया है और देसी शराब ठेके को सीज कर दिया गया है. इस मामले में लापरवाही बरतने वाले बड़े अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. (रिपोर्ट- अखिलेश सोनकर)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज