चित्रकूट में भीषण सड़क हादसा, जीप की टक्कर से बाइक सवार 2 युवकों की मौत

एसएचओ ने बताया कि जीप और उसके चालक को पकड़ लिया गया है. दोनों शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा गया है. (सांकेतिक फोटो)

एसएचओ ने बताया कि जीप और उसके चालक को पकड़ लिया गया है. दोनों शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा गया है. (सांकेतिक फोटो)

मऊ थाना के प्रभारी निरीक्षक (एसएचओ) गुलाब त्रिपाठी ने बताया कि मऊ क्षेत्र के लालता रोड तिराहे पर रविवार को एक बोलेरो जीप ने मोहनी गांव (Mohini Village) निवासी बाइक सवार दो चचेरे भाइयों सुजीत (18) और जितेंद्र (23) को टक्कर मार दी, जिससे दोनों गंभीर रूप से घायल हो गए.

  • Share this:
चित्रकूट. उत्तर प्रदेश के चित्रकूट जिले (Chitrakoot District) में मऊ थाना (Mau police station) क्षेत्र के लालता रोड तिराहे पर रविवार को एक जीप की टक्कर से बाइक सवार दो युवकों की मौत हो गयी. पुलिस के एक अधिकारी ने सोमवार को इस बारे में बताया. मऊ थाना के प्रभारी निरीक्षक (एसएचओ) गुलाब त्रिपाठी ने बताया कि मऊ क्षेत्र के लालता रोड तिराहे पर रविवार को एक बोलेरो जीप ने मोहनी गांव (Mohini Village)  निवासी बाइक सवार दो चचेरे भाइयों सुजीत (18) और जितेंद्र (23) को टक्कर मार दी, जिससे दोनों गंभीर रूप से घायल हो गए. उन्होंने बताया कि दोनों घायलों को अस्पताल ले जाया गया, जहां रविवार देर शाम दोनों की मौत हो गयी. एसएचओ ने बताया कि जीप और उसके चालक को पकड़ लिया गया है. दोनों शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा गया है.

वहीं, कुछ देर पहले खबर सामने आई थी कि इटावा जिले के बकेवर थाना क्षेत्र अंतर्गत एक बेकाबू ट्रक ने सड़क के किनारे बैठे 11 लोगों को रौंद दिया. इस हादसे में 3 लोगों मौत हो गई, जबकि 8 अन्य गंभीर रूप से घायल हो गए, जिनका इलाज अस्पताल में चल रहा है. बकेवर थाना प्रभारी जितेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि हादसे के बाद सभी को उपचार के लिए मुख्यालय भेजा गया, जहां उपचार के दौरान तीन की मौत हो गई है जब कि अन्य को इटावा और सैफई में भर्ती कराया गया है. यह सड़क दुर्घटना सोमवार तड़के तकरीबन 4 बजे हुआ.

उपचार के लिए सैफई मेडिकल यूनिवर्सिटी भेजा गया है

इस हादसे मे बुद्वि सिंह (50), दीपक (25) और एक अज्ञात की मौत हो गई है, जबकि रूपा (40), रिंकी (19), सीमा (22), प्रीति (19), आठ माह की रिया, सदीप (30) और प्रमोद (25) गंभीर रूप से घायल हो गये. एक घायल की पहचान नहीं हो सकी है. हादसे के शिकार सभी लोग दिल्ली से झांसी पंचायत चुनाव में वोट डालने के लिए अपने-अपने गांव जा रहे थे. सभी झांसी के अलग-अलग गांव में वोट डालने के लिए दिल्ली से रात को किराये की गाड़ी करके चले थे, लेकिन सोमवार तड़के यह हादसा हो गया. सभी घायलों को मुख्यालय के डाक्टर भीमराव अंबेडकर राजकीय संयुक्त चिकित्सालय में भर्ती करा दिया गया है. इनमें से कई घायलों को बेहतर उपचार के लिए सैफई मेडिकल यूनिवर्सिटी भेजा गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज