अपना शहर चुनें

States

नहीं आई एंबुलेंस तो सड़क पर हुआ प्रसव, अस्पताल जाते वक्त बाइक से गिरी प्रसूता व नवजात

सड़क पर बच्चे को दिया जन्म
सड़क पर बच्चे को दिया जन्म

ब्लॉक कार्यालय के पास सीएचसी से कुछ कदम पहले ही अचानक प्रसूता का दर्द बढ़ा और उसको बच्चा हो गया. बच्चा सड़क पर गिरा साथ ही प्रसूता भी गिर पड़ी.

  • Share this:
यूपी में बेहतर स्वास्थ्य सेवाओं का सरकार के दावे उस समय फेल नजर आए जब एंबुलेंस के नहीं आने पर प्रसव पीड़ा से कराहती प्रसूता को ब्लॉक कार्यालय के सामने सड़क पर ही बच्चे को जन्म देना पड़ा. यही नहीं बाइक पर अस्पताल जा रही प्रसूता अपने नवजात के साथ लड़क पर ही गिर गई.

हुआ ये कि मंगलवार को लवली विश्वकर्मा को तेज प्रसव पीड़ा हुई. घर पर सिर्फ लवली की सास मौजूद थी. सास ने बहू कि बिगड़ती हालत देख 102 व 108 एंबुलेंस को फोन लगाया पर कोई मदद नहीं मिली. जिससे परेशान होकर वह पड़ोसी बुल्टा पुत्र भूपत के साथ बाइक पर बहू को बैठाकर पहाड़ी के सीएचसी आ रही थी. ब्लॉक कार्यालय के पास सीएचसी से कुछ कदम पहले ही अचानक प्रसूता का दर्द बढ़ा और उसको बच्चा हो गया. बच्चा सड़क पर गिरा साथ ही प्रसूता भी गिर पड़ी.

यह देखकर आसपास भीड़ लग गई. स्थानीय लोगों ने बताया कि इसी बीच दो एंबुलेंस भी निकली, जिन्हें रोकने का प्रयास किया लेकिन वह नहीं रुकीं. आसपास के लोगों ने जिलाधिकारी शेषमणि पांडेय को जानकारी दी. जिलाधिकारी के आदेश पर सीएसची प्रभारी डॉ. ध्रुव कुमार पूरे स्टाफ के साथ मौके पर पहुंचे. हालात ऐसे थे कि जच्चा-बच्चा को अस्पताल नहीं लेकर जाया जा सकता था. जिससे सड़क पर ही वह स्थान अस्पताल बन गया.



प्रसव के बाद दोनों को स्ट्रेचर से ले जाकर अस्पताल में भर्ती कराया गया. डॉ. ध्रुव ने बताया कि नवजात के गिरने के कारण नवजात के सिर पर चोट आई है. उसे जिला अस्पताल रेफर किया गया है. परिजनों ने बताया कि स्वास्थ्य सुविधाओं का समय से लाभ न मिलने की जानकारी सीएमओ को दी जाएगी.
ये भी पढ़ें: 

अस्पताल के वॉर्ड बॉय ने नाबालिग लड़की से किया रेप, गिरफ्तार

पिता ने तमंचे के दम पर 2 महीने तक किया बेटी का रेप

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज