होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /Corrupution : पेमेंट जारी करवाने पर सचिव कह रहा था 'पहले घूस दो', एंटी करप्शन टीम ने रंगे हाथ पकड़ा

Corrupution : पेमेंट जारी करवाने पर सचिव कह रहा था 'पहले घूस दो', एंटी करप्शन टीम ने रंगे हाथ पकड़ा

'तू डाल डाल मैं पात पात' वाला एक खेल चित्रकूट में तब सामने आया जब एक सचिव को घूस लेते हुए एक ग्राम प्रधान ने अरेस्ट करव ...अधिक पढ़ें

    रिपोर्ट – अखिलेश कुमार सोनकर

    चित्रकूट. ग्राम पंचायत सचिव को एंटी करप्शन की टीम ने 20 हजार की घूस लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया. मानिकपुर विकासखंड के ग्राम पंचायत सकरौहां में ग्राम प्रधान राजकुमार मौर्य ने दो लाख की लागत का एक खेल मैदान बनवाया था, जिसका पेमेंट कराने के लिए मौर्य ग्राम पंचायत सचिव विपिन कश्यप के पास कई महीने से चक्कर लगा रहे थे. सचिव पर आरोप है कि वह खेल मैदान की लागत का 10% ग्राम प्रधान से बतौर घूस मांग रहे थे. मौर्य ने इसकी शिकायत बीते 5 दिसम्बर को एंटी करप्शन हेड ऑफिस लखनऊ में की थी.

    एंटी करप्शन झांसी ऑफिस ने मामले की जांच कराई. शिकायत सही पाए जाने पर पीड़ित ग्राम प्रधान की लिखित शिकायत के बाद एंटी करप्शन की 11 सदस्यीय टीम ने आज आरोपी सचिव विपिन कश्यप को ग्राम प्रधान से 20,000 की घूस लेते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया. इसके बाद आरोपी सचिव को एंटी करप्शन की टीम मानिकपुर थाने ले गई, जहां एंटी करप्शन के तहत आरोपी के खिलाफ मुकदमा कराया गया. फिर वहां से उसे न्यायालय में पेश करने के लिए ले जाया गया.

    प्रधान ने परेशान होकर की शिकायत

    एंटी करप्शन टीम की इस कार्रवाई से घूसखोर कर्मचारियों में हड़कंप मच गया है. इस मामले में पीड़ित ग्राम प्रधान मौर्य का कहना है कि वह अपने गांव के विकास के लिए ग्राम पंचायत सचिव से घूस न लेने की लगातार गुहार लगा रहे थे. लेकिन वह लगातार उनसे घूस की मांग कर रहे थे. मजबूर होकर उन्होंने एंटी करप्शन टीम से शिकायत की.

    Tags: Arrested for taking bribe, Chitrakoot News

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें