ज्ञानपुर के विधायक विजय मिश्रा चित्रकूट जेल शिफ्ट, बेटी बोली- एकजुट हों ब्राह्मण
Chitrakoot News in Hindi

ज्ञानपुर के विधायक विजय मिश्रा चित्रकूट जेल शिफ्ट, बेटी बोली- एकजुट हों ब्राह्मण
चित्रकूट जेल शिफ्ट किए गए विधायक विजय मिश्रा

SSP अभिषेक दीक्षित ने जेल अधीक्षक से बातचीत के बाद DM से जेल बदलने की सिफारिश की थी. कागजी कार्रवाई के बाद विजय मिश्रा को चित्रकूट जेल भेज दिया गया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 18, 2020, 2:14 PM IST
  • Share this:
चित्रकूट. संपत्ति विवाद में गिरफ्तार हुए भदोही के ज्ञानपुर से बाहुबली विधायक विजय मिश्रा (MLA Vijay Mishra) को सोमवार देर शाम प्रयागराज के नैनी सेंट्रल जेल (Naini Central Jail) से चित्रकूट जेल शिफ्ट किया गया. बताया जा रहा है कि विजय मिश्रा नैनी जेल में अपने रसूख का इस्तेमाल कर सकते थे. लिहाजा एसएसपी के पत्र पर डीएम ने जेल बदलने की संस्तुति कर दी. कड़ी सुरक्षा के बीच सोमवार देर रात विजय मिश्रा को चित्रकूट जेल पहुंचाया गया. उधर, उनकी बेटी सीमा मिश्रा ने पिता की जान का खतरा बताते हुए सरकार पर गंभीर आरोप लगाए.

जेल बदलने की सूचना पर विधायक की बेटी सीमा मिश्रा ने कहा कि उनके पिता को कई गंभीर बीमारी है. उनका इलाज करवाने की जगह सरकार उनका जेल बदल रही है. अगर उनके पिता को कुछ हो जाता है या फिर रास्ते में एनकाउंटर कर दिया जाता है तो इसकी जिम्मेदारी किसकी होगी? सीमा मिश्रा ने ब्राह्मण कार्ड खेलते हुए प्रदेश के सभी ब्राह्मणों से एकजुट होने की भी अपील की.

इससे पहले रविवार को भदोही पुलिस ने विजय मिश्रा को मध्य प्रदेश से लाकर कोर्ट में पेश किया था. जहां से कोर्ट ने विधायक को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है. उन्हें नैनी (प्रयागराज) जेल में रखा जाएगा. बताया गया कि भदोही की जिला जेल से सुरक्षा के दृष्टिगत विजय मिश्रा का नैनी जेल ट्रांसफर किया गया है. वहीं, भारी पुलिस बल विजय मिश्रा को लेकर नैनी जेल गया है.



सुरक्षा के मद्देनजर विधायक को शिफ्ट किया गया नैनी जेल
विधायक विजय मिश्रा के एक रिश्तेदार ने 4 अगस्त को उन पर, उनकी पत्नी और बेटे पर मुकदमा दर्ज कराया था. जिस मामले में विधायक को मध्य प्रदेश के आगर में भदोही पुलिस की सूचना पर एमपी पुलिस ने हिरासत में ले लिया था. इसके बाद भदोही पुलिस टीम एमपी गई थी और विधायक को लेकर भदोही पहुंची. सबसे पहले विधायक की मेडिकल जांच कराई गई और फिर उन्‍हें भदोही की कोर्ट में पेश किया गया, जहां कोर्ट ने विधायक को न्यायिक हिरासत में भेज दिया है. अधिवक्ता हंसा राम ने बताया कि मामले में अब 28 अगस्त को कोर्ट में सुनवाई की जाएगी. वहीं, पुलिस अधीक्षक राम बदन सिंह ने बताया कि विधायक को जिला जेल में भेजा गया था जहां से उनकी सुरक्षा के दृष्टिगत उन्हें प्रयागराज जिले की नैनी जेल भेजा गया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज