अपना शहर चुनें

States

पुरानी पेंशन बहाली को लेकर शिक्षकों ने निकाला कैंडिल मार्च

सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर

पुरानी पेंशन बहाली को लेकर चित्रकूट जिला मुख्यालय की सड़कों पर शिक्षकों ने कैंडिल मार्च निकाला और सरकार को चेतावनी दी.

  • Share this:
संयुक्त संघर्ष संचालन समिति के बैनर तले शिक्षकों ने भारी संख्या में मंगलवार देर शाम पुरानी पेंशन योजना की बहाली को लेकर शहर में कैंडिल मार्च निकाला. शिक्षकों ने योगी सरकार से अपने बुढापे का सहारा मांगा और चेतावनी दी कि अगर सरकार हमारी पेंशन बहाल नही करती है तो आने वाले चुनाव में हम गांव-गांव जाकर सरकार का विरोध करेंगे. इसका खामियाजा सरकार को खुद भुगतना पड़ेगा.

बता दें कि शिक्षक समुदाय अपनी पुरानी पेंशन योजना की बहाली को लेकर लंबे समय से मांग करते आ रहे हैं. अब इनकी मांग मुखर होने लगी है. चित्रकूट के शिक्षकों ने जिला मुख्यालय की सड़कों पर कैंडिल मार्च निकालकर सरकार के प्रति विरोध जताया और पेंशन बहाल किए जाने की मांग की. शिक्षकों का कहना कि सरकार ने हमारे बुढ़ापे का सहारा पेंशन छीन ली और सांसद विधायकों को पेंशन दे रही है, जो मात्र पांच साल के लिए चुने जाते हैं.

जबकि हम लोग 60 साल तक सरकार की सेवा करते हैं फिर भी हमारी पेंशन को बहाल नहीं किया जा रहा है. शिक्षक नेताओ ने सरकार के प्रति आक्रोश जताया और चेतावनी दी है कि यदि जल्द हमारी पेंशन बहाल नहीं की जाती है तो गांव स्तर में हम चुनाव में सरकार का विरोध करेंगे.



शिवपाल ने जताया मुलायम सिंह की जान को खतरा, कही ये बड़ी बात
शिक्षक नेताओं ने कहा 2004 में नियुक्त कर्मचारियों व शिक्षकों की पुरानी पेंशन समाप्त कर दी गई. उसकी जगह नई पेंशन स्कीम लागू कर दी गई जो कि भविष्य को सुरक्षित नहीं करती है. जिससे सभी शिक्षकों में बेहद आक्रोश है.

रिपोर्ट- अखिलेश सोनकर

यूपी BJP में विद्रोह के स्‍वर! सांसद बोले, सियासत में नहीं होता परफॉर्मेंस-नॉन परफॉर्मेंस
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज