लाइव टीवी

हमीरपुर में बालू का अवैध खनन, माफिया प्रतिदिन लगा रहे लाखों का चूना

News18 Uttar Pradesh
Updated: October 13, 2018, 4:23 PM IST

हमीरपुर मे खनन माफिया अधिकारियों से सांठ-गांठ करके सरकार के राजस्व में प्रतिदिन लाखों का चूना लगा रहे हैं.

  • Share this:
प्रदेश के हमीरपुर जिले में खनन माफिया बालू के अवैध खनन का कारोबार धड़ल्ले से कर रहे है. माफिया खनन पट्टे की आड़ में प्रतिबंधित भारी मसीनो का प्रयोग करके नियम और कानून की खुलेआम धज्जिया उड़ा रहे है.  इतना ही नहीं यह माफिया खनिज विभाग के अधिकारिओ से सांठ -गांठ करके सरकार को लाखो का चूना प्रतिदिन लगा रहे है. इसके अतिरिक्त इन माफियाओं की दबंगई के चलते किसानों की जमीनों में कब्ज़ा करके, खनन पट्टे से अतिरिक्त खनन कर डाला है.

हमीरपुर जिले के जरिया थाना क्षेत्र स्थित चंडौत के रिरुआ बसलिया खंड के हालात  यह है कि पट्टा किसी और के नाम है और माफियाओं ने दबंगई से अवैध खनन कर रहे हैं. साथ ही किसानों की जमीनो में जबरन खनन भी कर रहे हैं. इसकी शिकायत जब भी किसानो ने जिला प्रशासन से करनी चाही तो उनको धमकाया गया. यूपी की योगी सरकार खनन माफियाओं के अवैध खनन पर लगाम लगाने के लिए लगातार प्रयासरत है और नए नए कड़े कानून बनाकर शिकंजा भी कस रही है फिर भी खनन माफिया खनिज विभाग की मिली भगत से अवैध खनन करके सरकार के राजस्व का करोडो रुपये का चूना लगा रहे है.

माफिया सारे नियम और कानून को ताक में रखकर खुलेआम पोकलैंड मसीनो से अवैध खनन कर रहे है.  ट्रको में ओवरलोडिंग करके सड़को की भी दुर्दशा करने में आमदा हैं. किसानो ने इसकी कई बार शिकायत जिला प्रशासन से की है जाँच तो होती है. मगर किससे खनिज विभाग से जो खुद इस कारोबार का सर्वेसर्वा होता है. इस मामले में जिला प्रशासन जाँच करवाकर कार्यवाही करने को कह रहा है. मगर लोगो को यूपी की योगी सरकार पर भरोसा है की कभी तो उनके साथ न्याय होगा.

रिपोर्ट- उमाशंकर मिश्रा

ये भी पढ़ें:-

रोहतास में खनन माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई, डम्प किया बालू जब्त

गोंडाः लेखपाल को रिश्वत देते कैमरे में कैद हुए खनन माफिया शिवा सिंहशाहजहांपुर में खनन माफिया सक्रिय, कृषि योग्य जमीनें हो रही हैं बंजर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चित्रकूट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 13, 2018, 4:23 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर