चित्रूकटः धड़ल्ले से हो रहा है अवैध रेत खनन का कारोबार, प्रशासन पर मिलीभगत का आरोप

आरोप है कि खनन माफिया जिम्मी सिंह को प्रशासन का पूरा संरक्षण मिला हुआ है, जिसके चलते बिना परमीशन के ही खनन माफिया हजारों घन मीटर मौरंग डंप कर लिया है


Updated: June 19, 2018, 1:21 PM IST
चित्रूकटः धड़ल्ले से हो रहा है अवैध रेत खनन का कारोबार, प्रशासन पर मिलीभगत का आरोप
सांकेतिक चित्र

Updated: June 19, 2018, 1:21 PM IST
चित्रकूट जिले में रेत खनन माफिया धड़ल्ले से बेरोक-टोक नदियों से अवैध खनन को अंजाम दे रहें हैं, लेकिन प्रशासन कान में तेल डालकर बैठी हुई है. मामले की शिकायत के बाद भी अब तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है. आरोप है खनन माफिया प्रशासन की मिलीभगत से नदियों में अवैध खनन का कारोबार फल-फूल रहा है.

रिपोर्ट के मुताबिक पहाड़ी थाना क्षेत्र के कहेटा घाट में मानकों को धता बताकर खनन माफिया नदियों का सीना चीर अवैध खनन कर रहे हैं, लेकिन कार्यवाही करने के बजाय जिला प्रशासन माफियाओ को संरक्षण दे रही है. आरोप है कि खनन माफिया जिम्मी सिंह को प्रशासन का पूरा संरक्षण मिला हुआ है, जिसके चलते बिना परमीशन के ही खनन माफिया हजारों घन मीटर मौरंग डंप कर लिया है.

बताया जाता है मामले की शिकायत पर कर्वी एसडीएम भी मौके पर पहुंचे, लेकिन बिना कोई कार्यवाही के वापस लौट गए. दिलचस्प बात यह है कि उप जिलाधिकारी अवैध बालू डंप होने की पुष्टि भी कर चुके हैं, लेकिन कार्यवाही करने के नाम पर उन्होंने अपना पैर भी पीछे घसीट लिया है.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर