होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /जमानत पर जेल से रिहा हुए कैराना के सपा विधायक नाहिद हसन, समर्थकों व परिजनों ने की मीडिया से बदसलूकी

जमानत पर जेल से रिहा हुए कैराना के सपा विधायक नाहिद हसन, समर्थकों व परिजनों ने की मीडिया से बदसलूकी

समाजवादी पार्टी के विधायक नाहिद हसन जेल से छूट गए हैं

समाजवादी पार्टी के विधायक नाहिद हसन जेल से छूट गए हैं

SP MLA Nahid Hasan Bail: विधानसभा चुनाव से पहले 15 जनवरी 2022 को नाहिद हसन को गिरफ्तार कर लिया गया था. नाहिद हसन और उनक ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

विधायक नाहिद हसन और उनकी माता पूर्व सांसद तबस्सुम हसन सहित 40 लोगों के खिलाफ गैंगस्टर के मामले में मुकदमा दर्ज किया गया था.
28 सितंबर 2022 को नाहिद को मुजफ्फरनगर जेल से निकालकर चित्रकूट जेल में शिफ्ट किया गया था.
विधानसभा चुनाव से पहले 15 जनवरी 2022 को नाहिद हसन को गिरफ्तार किया गया था

चित्रकूट. कैराना से सपा विधायक नाहिद हसन को गैंगस्टर एक्ट के मामले में जमानत मिल गई है. इसके बाद सपा विधायक नाहिद हसन की रिहाई का परवाना चित्रकूट जेल पहुंचा जहां शनिवार की सुबह 9 बजे सपा विधायक नाहिद हसन को जेल से रिहा कर दिया गया. नाहिद की रिहाई से उनके समर्थकों में खुशी की लहर है. आपको बता दें कि सपा विधायक नाहिद हसन और उनकी माता पूर्व सांसद तबस्सुम हसन सहित 40 लोगों के खिलाफ 21 फरवरी साल 2021 को गैंगस्टर के मामले में मुकदमा दर्ज किया गया था.

विधानसभा चुनाव से पहले 15 जनवरी 2022 को नाहिद हसन को गिरफ्तार कर लिया गया था. जिसके बाद उन्हें एमपी-एमएलए कोर्ट कैराना में पेश किया गया था, जहां से उन्हें न्यायिक हिरासत में लेकर मुजफ्फरनगर जेल भेज दिया गया था. इसके बाद नाहिद के अधिवक्ता ने हाईकोर्ट में प्रार्थना पत्र दाखिल किया. इस बीच 28 सितंबर 2022 को उन्हें मुजफ्फरनगर जेल से निकालकर चित्रकूट जेल में शिफ्ट किया गया था और अब सपा विधायक नाहिद हसन को हाई कोर्ट से जमानत मिलने के बाद आज सपा विधायक नाहिद हसन चित्रकूट जेल से रिहा कर दिए गए हैं.

बहन ने मीडिया कर्मियों से कैमरा छीना
जेल से छूटने के बाद मीडिया कर्मियों से सपा विधायक नाहिद हसन अपना मुंह छिपाते हुए नजर आए. वहीं उनकी बहन इकरा हसन ने मीडिया कर्मियों के वीडियो बनाने पर उनसे बदसलूकी करते हुए उनके मोबाइल फोन और कैमरा छीन लिया, जिसके बाद वीडियो डिलीट करने के बाद एक मीडिया कर्मी का मोबाइल वापस किया. इस दौरान जेल प्रशासन और पुलिस प्रशासन की बड़ी लापरवाही सामने देखने को मिली.

समर्थकों ने मीडियाकर्मियों से की बदसलूकी
नाहिद हसन के छूटते वक्त किसी भी तरह की सुरक्षा व्यवस्था कोई इंतजाम नहीं किए गए थे. यहां तक की सपा विधायक नाहिद हसन के समर्थक दर्जनों की तादाद में जेल परिसर के अंदर चले गए थे और वहां से अपने साथ उसे जेल से बाहर लाये. इस दौरान एक भी पुलिसकर्मी वहां नजर नहीं आया जिससे नाहिद हसन की बहन और उनके समर्थकों ने मीडिया कर्मियों के साथ जमकर बदसलूकी की.

Tags: Kairana, Nahid Hasan, UP news

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें