लाइव टीवी

अवैध खनन की जांच कर रही CBI टीम ने शुरू की पूछताछ, पट्टा धारकों में हड़कंप

News18 Uttar Pradesh
Updated: January 21, 2019, 6:36 PM IST

सीबीआई ने सपा शासन में हुए अवैध खनन की जांच करते हुए जिले के पूर्व जिलाधिकारी बी चंद्रकला समेत 11 लोगों पर मुकदमा दर्जकर आगे की कार्रवाई के लिए फाइल ईडी को सौप दी है.

  • Share this:
प्रदेश के हमीरपुर जिले में बालू के अवैध खनन की जांच कर रही सीबीआई ने पूछताछ शुरूकर दी है. जिससे अवैध पट्टा धारकों में हड़कंप मच गया है. सीबीआई की 5 सदस्यी टीम ने जिल के मौदहा बांध गेस्ट हाउस को अपना कैम्प कार्यालय बनाया है. हाल ही में सीबीआई ने सपा शासन में हुए अवैध खनन की जांच की थी. जिसमें जिले के पूर्व जिलाधिकारी बी चंद्रकला समेत 11 लोगों पर मुकदमा दर्जकर आगे की कार्रवाई के लिए फाइल ईडी को सौप दी है. इसके अतिरिक्त अन्य अवैध खनन से जुड़े लोगों पर कार्रवाई करने के लिए सीबीआई ने फिर से जांच शुरू कर दी है.

बता दें कि पूर्ववर्ती समाजवादी पार्टी के शासनकाल में जिले में नियमों की अनदेखी करते हुए बालू के पट्टे देिए गए थे. हाईकोर्ट के आदेश पर कार्रवाई करते हुए सीबीआई ने 2012 से 2016 के बीच हुए अवैध खनन को लेकर आईएएस बी चंद्रकला समेत 11 लोगो को निशाना बना चुकी है. लेकिन इस अरबों के कारोबार में शामिल और लोगों की खोज के लिए सीबीआई की टीम ने जिले में एक बार फिर से अपना कैम्प कार्यालय बना लिया है.

दरअसल अवैध खनन का यह मामला जुलाई 2012 के बाद जिले में 60 बालू खनन के पट्टे दिए जाने का है. आरोप है कि तत्कालीन जिलाधिकारी ने नियमों की अनदेखी करते हुए सपा नेता रमेश मिश्रा के साथ मिलकर अवैध खनन पट्टे बांटे थे. 2015 में अवैध खनन को लेकर इलाहाबाद हाईकोर्ट में एक याचिका दायर की गई थी. जिस पर सुनवाई करते हुए कोर्ट ने सभी पट्टों का अवैध घोषित कर दिया था. कोर्ट के आदेश के पर 28 जुलाई 2016 को मामले की जांच सीबीआई को दी गई है. (रिपोर्ट-उमाशंकर मिश्रा)

ये भी पढ़ें: अवैध खनन: IAS बी चंद्रकला समेत 11 के खिलाफ ED ने दर्ज की एफआईआर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चित्रकूट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 21, 2019, 6:36 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...