Home /News /uttar-pradesh /

पीएम मोदी, जेपी नड्डा से मुलाकात के बाद अब राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मिल सकते हैं सीएम योगी आदित्यनाथ

पीएम मोदी, जेपी नड्डा से मुलाकात के बाद अब राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मिल सकते हैं सीएम योगी आदित्यनाथ

सीएम योगी ने जेपी नड्डा से मुलाकात की.

सीएम योगी ने जेपी नड्डा से मुलाकात की.

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों (Assembly Election 2022) के मद्देनजर दिल्ली में मुलाकातों के इस दौर को काफी अहम माना जा रहा है.

    नई दिल्ली. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) से 7, लोक कल्याण मार्ग स्थित उनके आधिकारिक आवास पर मुलाकात की. सवा घंटे से अधिक समय की मुलाकात के बाद प्रधानमंत्री आवास से बाहर निकले मुख्यमंत्री योगी ने पत्रकारों से कोई संवाद नहीं किया और सीधे भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा से मिलने उनके आवास की ओर निकल गए. फिलहाल, नड्डा की योगी से मुलाकात की.

    इस बीच, योगी ने ट्वीट कर कहा, ‘आज आदरणीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी से नई दिल्ली में शिष्टाचार भेंट एवं मार्गदर्शन प्राप्ति का सौभाग्य प्राप्त हुआ. अपनी व्यस्ततम दिनचर्या से भेंट के लिए समय प्रदान करने व आत्मीय मार्गदर्शन करने हेतु आदरणीय प्रधानमंत्री जी का हृदयतल से आभार.’ वहीं नड्डा से मुलाकात के बाद सीएम ने ट्वीट किया कि- 'आज आदरणीय राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा जी से नई दिल्ली में शिष्टाचार भेंट कर विभिन्न विषयों पर उनका मार्गदर्शन प्राप्त किया.अपनी व्यस्त दिनचर्या से मुझे समय प्रदान करने के लिए आदरणीय अध्यक्ष जी का कोटिशः आभार.'

    दो दिवसीय दौरे पर दिल्ली आए योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की थी और विभिन्न मुद्दों पर उनसे तकरीबन डेढ़ घंटे चर्चा की थी. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, नड्डा से मुलाकात के बाद योगी राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात करेंगे. शाह के साथ बैठक में योगी ने उन्हें ‘प्रवासी संकट समाधान’ रिपोर्ट की एक प्रति भी दी.

    ए. के. शर्मा भी दिल्ली में डेरा डाले हुए
    अभी कुछ दिन पहले ही भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री (संगठन) बी एल संतोष और पार्टी के उत्तर प्रदेश प्रभारी राधामोहन सिंह ने लखनऊ का दौरा किया था और अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए पार्टी की तैयारियों की समीक्षा की थी. दोनों नेताओं ने इस दौरान राज्य सरकार के मंत्रियों, विधायकों और संगठन के प्रमुख पदाधिकारियों से अलग-अलग मुलाकात की थी.

    इसके बाद योगी आदित्यनाथ के अचानक दिल्ली पहुंचने और उनकी, पार्टी के शीर्ष नेताओं से इन मुलाकातों के दौर को भाजपा की, उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव की तैयारियों के रूप में देखा जा रहा है. साथ ही राज्य में मंत्रिमंडल विस्तार की संभावनाओं से भी इसे जोड़कर देखा जा रहा है. योगी की दिल्ली यात्रा से ठीक एक दिन पहले पूर्व केंद्रीय मंत्री व कांग्रेस नेता जितिन प्रसाद ने भाजपा का दामन थामा है.

    पूर्व प्रशासनिक अधिकारी और उत्तर प्रदेश में भाजपा के विधान परिषद के सदस्य ए. के. शर्मा भी पिछले कुछ दिनों से दिल्ली में डेरा डाले हुए है तथा पार्टी के नेताओं से मुलाकातें कर रहे हैं. शर्मा को प्रधानमंत्री मोदी का विश्वस्त माना जाता है. हालांकि अभी तक उत्तर प्रदेश में मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर कोई आधिकारिक सूचना नहीं है, लेकिन सूत्रों का कहना है कि राज्य के प्रतिष्ठित ब्राह्मण परिवार और राजनीतिक हलके से ताल्लुक रखने वाले जितिन प्रसाद को और शर्मा को इस संभावित विस्तार में शामिल किया जाएगा.

    आपके शहर से (लखनऊ)

    Tags: Amit shah, BJP, Narendra modi, Uttar pradesh news, Yogi Adityananth

    अगली ख़बर