बलरामपुर की जेल में 26 कैदियों के कोरोना पॉजिटिव मिलने से मचा हड़कंप, स्वास्थ्य विभाग की टीम ने लिया 468 कैदियों का सैंपल

बलरामपुर जेल में 26 कोरोना संक्रमितों के मिलने से हड़कंप मच गया है.
बलरामपुर जेल में 26 कोरोना संक्रमितों के मिलने से हड़कंप मच गया है.

बलरामपुर (Balrampur) की जेल में 26 कैदी (prisoners) कोरोना पॉजिटिव (Corona positive) मिले हैं. इसके बाद जेल पहुंची स्वास्थ्य विभाग (Health Department) की टीम ने कैदियों और जेल स्टाफ को मिलाकर कुल 486 लोगों का कोरोना सैंपल लिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 18, 2020, 3:50 PM IST
  • Share this:
बलरामपुर. बलरामपुर (Balrampur) की जिला जेल रामानुजगंज में कोरोना (Corona) ने दस्तक दे दी है. पिछले कुछ दिनों से कैदियों के बीमार होने की सूचना मिली थी. इसके बाद इन कैदियों की जब स्वास्थ्य जांच (Health checkup) कराई गई तो 26 कैदी कोरोना पॉजिटिव (Corona Positive) मिले हैं. कैदियों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव निकले से जेल प्रशासन के बीच हड़कंप मच गया है.

जेल में 26 कैदियों के कोरोना पॉजीटिव मिलने के बाद से सभी कैदियों का कोरोना टेस्ट किया जा रहा है. साथ ही कैदियों के संपर्क में आने वाले जेल स्टाफ का भी कोरोना टेस्ट किया जा रहा है. फिलहाल सभी को क्वारंटीन किया गया है. घटना की जानकारी मिलने के बाद जिले के कलेक्टर और स्वास्थ विभाग की टीम जेल में पहुंची और निरीक्षण किया. जेल में 26 कैदियों के कोरोना पॉजिटिव होने की जैसे ही प्रशासन को जानकारी मिली वह कलेक्टर और स्वास्थ्य विभाग की टीम जेल पहुंची है. जो लोग भी जेल में बीमार मिले हैं या जिनको सर्दी-खासी जैसी कोई बीमारी है उनका सैंपल लिया गया है.

बरेली: प्रेम विवाह के बाद युवती ने Video जारी कर लगाई सुरक्षा की गुहार



जिले के कलेक्टर श्याम धावडे रात्र में स्वास्थय अमले के साथ जेल परिसर पहुंचे और निरीक्षण किया. इसके बाद करीब 468 लोगों का सैम्पल लिया गया है, जिनमें 2 जेल स्टाफ और 196 विचारधीन कैदी कोरोना से पीडित पाये गये हैं. बीएमओ ने फोन से चर्चा कर बताया कि सभी का इलाज जेल में जारी है. वहीं कोरोना के कुछ ही घंटे में इतने सारे मामले एक साथ जेल परिसर के अन्दर से आने के बाद जेल में हडकंप मच गया है. हालिक प्रशासन ने इलाज के लिये डॉक्टरों की टीम नियुक्त कर दिया है. जेल के अन्दर आखिरकार कोरोना कैसे पहुंच गया यह तो जांच का विषय है, लेकिन देखना होगा की आगे कैदियों की सुरक्षा को लेकर प्रशासन किस तरह का कदम उठाता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज