Home /News /uttar-pradesh /

Omicron को लेकर IIT कानपुर के प्रोफेसर का दावा- फरवरी में पीक पर होगी कोरोना की तीसरी लहर, लेकिन...

Omicron को लेकर IIT कानपुर के प्रोफेसर का दावा- फरवरी में पीक पर होगी कोरोना की तीसरी लहर, लेकिन...

आईआईटी कानपुर (IIT Kanpur) के वरिष्ठ प्रोफेसर मणींद्र अग्रवाल ने दावा किया कि ओमिक्रॉन के कारण देश में तीसरी लहर (COVID-19 Third Wave)का पीक फरवरी में होगा

आईआईटी कानपुर (IIT Kanpur) के वरिष्ठ प्रोफेसर मणींद्र अग्रवाल ने दावा किया कि ओमिक्रॉन के कारण देश में तीसरी लहर (COVID-19 Third Wave)का पीक फरवरी में होगा

Omircron Alert: आईआईटी कानपुर (IIT Kanpur) के वरिष्ठ प्रोफेसर अग्रवाल ने कोरोना वायरस की पहली और दूसरी लहर को लेकर जो भविष्यवाणी की थी, वह भी काफी सटीक बैठी थी. उन्होंने दावा किया है कि ओमिक्रॉन के कारण देश में तीसरी लहर (COVID-19 Third Wave) का पीक फरवरी में होगा.

अधिक पढ़ें ...

    कानपुर. भारत में कोरोना वायरस (Coronavirus in India) के ओमिक्रॉन वेरिएंट (Omicron Variant) के कारण बढ़ते संक्रमण और इसके साथ ही बढ़ती पाबंदियों के बीच आईआईटी कानपुर (IIT Kanpur) के वरिष्ठ प्रोफेसर मणींद्र अग्रवाल ने एक राहत देने वाली खबर दी है. उन्होंने दावा किया है कि ओमिक्रॉन के कारण देश में तीसरी लहर (COVID-19 Third Wave) का पीक फरवरी में होगा, लेकिन इस बार न तो मरीजों की संख्या ज्यादा होगी और न ही उन्हें अस्पताल में भर्ती होने की जरूरत पड़ेगी. अग्रवाल ने साथ ही बताया कि फरवरी के बाद ओमिक्रॉन की लहर धीरे-धीरे कम होने लगेगी.

    प्रोफेसर मणींद्र अग्रवार ने दक्षिण अफ्रीका और भारत के बीच गणितीय मॉडल के आधार पर तुलना के हवाले से बताया कि जनसंख्या और प्राकृतिक इम्यूनिटी के मामले में दोनों देशों की स्थिति एक जैसी है. वहां 17 दिसंबर को ओमिक्रॉन पीक पर था, अब वहां ओमिक्रॉन के केस तेजी से कम हो रहे हैं.

    ये भी पढ़ें- मेरठ के बंगला नंबर 235 का रहस्य जानकर हैरान रह जाएंगे आप

    प्रोफेसर अग्रवाल ने बताया, ‘दक्षिण अफ्रीका में नेचुरल इम्यूनिटी लगभग 80 प्रतिशत तक है. इसी के आधार पर हम कह सकते हैं कि दक्षिण अफ्रीका की तरह ही भारत में भी ओमिक्रॉन के केस अभी बढ़ेंगे, लेकिन ज्यादातर मरीजों को अस्पताल में भर्ती नहीं होना पड़ेगा.’ इसके साथ ही वह कहते हैं ‘यूरोप में नेचुरल इम्यूनिटी कम है, इसलिए वहां मरीज़ों की स्थिति थोड़ी गंभीर दिख रही है.’

    गौरतलब है कि प्रोफेसर अग्रवाल ने कोरोना वायरस की पहली और दूसरी लहर को लेकर जो भविष्यवाणी की थी, वह भी काफी सटीक बैठी थी. अग्रवाल ने कोरोना की तीसरी लहर से बचने के लिए लोगों को घरों में नए साल का जश्न मनाने की सलाह दी है. उन्होंने कहा कि भीड़ वाले इलाकों से जितना हो सके, बचे रहें. मास्क लगाए और सुरक्षित रहें.

    Tags: Corona third wave, Coronavirus, Iit kanpur, Omicron Alert

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर