लाइव टीवी

COVID-19: 1 मार्च के बाद प्रदेश में आने वालों को करवाना होगा मेडिकल चेकअप, सीएम योगी का निर्देश
Lucknow News in Hindi

News18 Uttar Pradesh
Updated: March 29, 2020, 10:34 PM IST
COVID-19: 1 मार्च के बाद प्रदेश में आने वालों को करवाना होगा मेडिकल चेकअप, सीएम योगी का निर्देश
कोरोना वायरस

उत्‍तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ (Chief Minister Yogi Adityanath) ने यूपी में बाहर से आए हर नागरिक की निगरानी और स्‍वास्‍थ्‍य परीक्षण (Health Check) पर विशेष ध्यान देने के निर्देश दिए हैं.

  • Share this:
लखनऊ: कोरोना की महामारी (corona epidemic) को रोकने के लिए केंद्र सरकार ने 21 दिनों का लॉक डाउन (Lock Down) घोषित किया गया था. लॉक डाउन की घोषणा के साथ देश के दूसरे हिस्‍सों में काम करने वाले कामगारों का प्रदेश में पलायन शुरू हो गया था. इस बीच, कुछ ऐसे लोग भी थे, जो मार्च के पहले हफ्ते में ही उत्‍तर प्रदेश (Uttar Pradesh) आ गए थे. ऐसे लोगों को देखते हुए उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ (Chief Minister Yogi Adityanath) ने एक बड़ा फैसला लिया है.

मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने निर्देश दिया है कि 1 मार्च के बाद यूपी में बाहर से आए हर नागरिक की निगरानी और स्‍वास्‍थ्‍य परीक्षण पर विशेष ध्यान दिया जाय. जांच के दौरान, संदेह के दायरे में आने वाले लोगों को तत्‍काल क्वरंटाइन किया जाए. बैठक में तय हुआ है कि बाहर से आए लोगों को 14 दिनों का हेल्थ प्रोटोकॉल पालन करना अनिवार्य होगा. मुख्‍यमंत्री योगी ने सभी जिलाधिका‍रियों से यह सुनिश्‍चत करने को कहा है कि लॉक डाउन के चलते बंद संस्‍थानों के हर कर्मचारियों को उसका वेतन मिले.

हर मजदूर को मिले सरकारी सहायता
उन्‍होंने निर्देश दिया है कि हर गरीब, दिहाड़ी मज़दूर को सरकार एक हजार रुपए देगी, वो भले ही प्रदेश के किसी भी कोने में हो. उन्‍होंने अधिकारियों को आदेश दिया है कि वह जरूरतमंद की न केवल पहचान करें, बल्कि उन तक यह राशि पहुंचाए. साथ ही, मुख्यमंत्री योगी ने मकान मालिकों से मानवीय अपील की है कि पूरे अल्प वेतन भोगी, श्रमिकों या गरीब लोगों से किराया ना लें. मुख्‍यमंत्री योगी ने निर्देश दिये हैं कि बिल पेंडिंग होने के बावजूद बिजली और पानी के कनेक्‍शन नहीं काटे जाएंगे. बिजली और पानी की आपूर्ति हर हाल में बहाल रहनी चाहिए.



सभी को मिले भोजन, पानी और दवा


बैठक में मौजूद अधिकारियों के साथ बातचीत में मुख्‍यमंत्री योगी ने कहा है कि यूपी में जो भी आ गए हैं, या पहले से रह रहे हैं, उनकी पूरी ज़िम्मेदारी हमारी है. उन्हें भोजन, शुद्ध पानी, दवा देने की जिम्मेदारी भी हमारी है. प्रशासन को यह भी सुनिश्‍चित करना होगा कि उनके चलते बाकी लोगों के स्वास्थ्य का कोई खतरा पैदा न हो. उन्‍होंने कहा कि बाहरी राज्यों के कामगारों की दैनिक जरूरतों की चिंता भी हमारी जिम्‍मेदारी है. उन्‍होंने कहा कि हमे सुनिश्‍चित करना होगा कि हमारी कमी के चलते किसी को पलायन करने के लिए मजबूर न होना पड़े.

जमाखोरों पर हो कड़ी कार्रवाई
मुख्‍यमंत्री ने सभी जिलाधिकारियों को आदेश दिए हैं कि सामान के मूल्‍य की सूची तैयार करें और उसका कड़ाई से पालन कराएं. जिलाधिकारियों से यह सुनिश्चित कराने के लिए कहा गया है कि कोई भी दुकानदार निर्धारित कीमतों से अधिक कीमतों पर समान न बेच पाए. मुख्‍यमंत्री ने जमाखोरी करने वालों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर कड़ी कार्रवाई करने के आदेश भी दिए हैं.

यह भी पढ़ें: 

Covid - 19: लॉक डाउन के चलते मजदूरी से किया इंकार, दबंग ने मजदूरों पर चला दी गोली
COVID-19: सिर्फ खाना ही नहीं, जरूरत पड़ने पर खून भी दे रहे यूपी पुलिस के जवान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 29, 2020, 10:34 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading