COVID-19: आज से खाद्य एवं रसद विभाग मजदूरों को बांटेगा राशन, सीएम योगी आदित्यनाथ का बड़ा फैसला
Lucknow News in Hindi

COVID-19: आज से खाद्य एवं रसद विभाग मजदूरों को बांटेगा राशन, सीएम योगी आदित्यनाथ का बड़ा फैसला
कोरोना वायरस और लॉकडाउन के कारण गरीबों को मुफ्त राशन दिया जा रहा है.

मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ (CM Yogi Adityanath) के निर्देश पर खाद्य एवं रसद विभाग (Food and Logistics Department) अंत्योदय कार्ड धारकों, नरेगा श्रमिकों, श्रम विभाग में रजिस्टर्ड श्रमिकों तथा नगर विकास विभाग के दिहाड़ी मजदूरों को निशुल्क राशन (Ration) वितरण किया जाएगा.

  • Share this:
लखनऊ: देश-प्रदेश में लगातार बढ़ रहे कोरोना वायरस (Coronavirus) को रोकने के लिये प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के आह्वाहन पर पूरे देश को लॉक डाउन (Lock Down) कर दिया गया है. बावजूद इसके, कोराना वायरस का खतरा लगातार बढ़ता जा रहा है. मौजूदा परिस्थितियों को देखते हुए मुख्‍यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने अपने दौरे को निरस्त कर लखनऊ में प्रदेश के आला-अधिकारियों के साथ एक अहम बैठक की.

बैठक में, कोरोना वायरस को रोकने और उसके लिये लागू किये लाक डॉउन में खाने-पीने को लेकर की गई व्ववस्था की समीक्षा की. बैठक के दौरान, मुख्‍यमंत्री ने यूपी में लॉक डाउन को अधिक सख्ती के साथ लागू करने का निर्देश दिया है. इसके साथ ही, खाद्य एवं रसद विभाग को गरीब मजदूरों का पेट भरने के लिये 1 अप्रैल से राशन बांटने का निर्देश दे दिया है.

दो चरणों में लागू होगी योजना
मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ के निर्देश पर खाद्य एवं रसद विभाग की तरफ से पहले चरण के तहत बुधवार 1 अप्रैल से ही पूरे प्रदेश में खाद्यान्न वितरण शुरू कर दिया जायेगा. इसमें अंत्योदय कार्ड धारकों, नरेगा श्रमिकों, श्रम विभाग में रजिस्टर्ड श्रमिकों तथा नगर विकास विभाग के दिहाड़ी मजदूरों को निशुल्क राशन वितरण किया जाएगा.
इस योजना के दूसरे चरण में 15 अप्रैल से समस्त कार्ड धारकों को 5 किलो प्रति यूनिट की दर से निशुल्क राशन (चावल) भी उपल्ब्ध कराया जायेगा मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने वितरण के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का भी पालन कराने का निर्देश दिया है. जिसके चलते, प्रत्येक उचित दर दुकान पर सैनिटाइजर,साबुन एवं पानी भी रखा जायेगा, ताकि हाथ धुलने के उपरांत ही ईपोस का इस्तेमाल किया जाये.



राशन वितरण के लिए बनेंगे रोस्‍टर
राशन की दुकानों पर भीड़ ना हो, सोशल डिस्टेंसिंग बनी रहे इसके लिए प्रत्येक दुकानदार रोस्टर के हिसाब से राशन वितरित करने का निर्देश दिया गया है. साथ ही, अगर कोई कोई व्यक्ति, परिवार, समुदाय, कस्बा या कॉलोनी को होम क्वॉरेंटाइन किया गया है तो उस तक होम डिलीवरी के माध्यम से राशन पहुंचाने के निर्देश दिये गये है.

राशन वितरण हेतु प्रत्येक उचित दर दुकान के लिये नोडल अधिकारी की नियुक्ति जिलाधिकारी द्वारा की गई है. उचित दर विक्रेता द्वारा नोडल अधिकारी तथा ग्राम प्रधान की उपस्थिति में ही हर पात्र मजदूर को राशन का वितरण कराने का निर्देश दिया गया है. जिससे योजना के क्रियांवन में पूरी पारदर्शिता बनी रहे और संकट के इस समय में सभी को भोजन उपलब्‍ध हो सके.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading