Home /News /uttar-pradesh /

Lockdown: मददगार बन सामने आई यूपी 112, किडनी रोगी को पहुंचाया अस्‍पताल

Lockdown: मददगार बन सामने आई यूपी 112, किडनी रोगी को पहुंचाया अस्‍पताल

बेहतरीन ड्यूटी के लिए पीआरवी 0482 को पीआरवी ऑफ द वीक का सर्टिफिकेट दिया जा रहा है. (फाइल फोटो)

बेहतरीन ड्यूटी के लिए पीआरवी 0482 को पीआरवी ऑफ द वीक का सर्टिफिकेट दिया जा रहा है. (फाइल फोटो)

लॉक डाउन (Lock Down) के दौरान मेडिकल इमरजेंसी (Medical Emergency) से निपटने में भी उत्तर प्रदेश पुलिस (Uttar Pradesh Police) की इमरजेंसी सेवा यूपी 112 लोगों को विशेष निर्देश दिए गए हैं.

लखनऊ: कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण को रोकने के लिए पूरे देश में लॉक डाउन (Lock Down) घोषित किया गया है. इस लॉक डाउन के चलते आम आदमी को अपने जीवन में तमाम समझौते करने पड़ रहे हैं. हालांकि ये सभी समझौते बेहतर कल के लिए किए जा रहे हैं. लेकिन, जब बात मेडिकल इमरजेंसी (Medical Emergency) की हो तो समझौता करना बेहद मुश्किल हो जाता है. आमजनों की जिंदगी में आने वाली इन परिस्‍थतियों को ध्‍यान में रखकर उत्‍तर प्रदेश पुलिस (Uttar Pradesh Police) ने कुछ विषेश इंतजाम किए हैं.

यूपी पुलिस के वरिष्‍ठ अधिकारी के अनुसार, लॉक डाउन के दौरान मेडिकल इमरजेंसी से निपटने में भी उत्तर प्रदेश पुलिस की इमरजेंसी सेवा यूपी 112 लोगों को विशेष निर्देश दिए गए हैं. निर्देश में स्‍पष्‍ट कहा गया है कि मेडिकल इमरजेंसी के दौरान, यूपी 112 के जवान बिना किसी देरी के पीड़ित के पास पहुंचेगी और उन्‍हें चिकित्‍सीय सेवा उपलब्‍ध कराएंगे. उन्‍होने बताया कि लॉक डाउन के बाद यूपी 112 में मेडिकल इमरजेंसी को लेकर कई कॉल आ चुकी है. इन सभी कॉल्‍स पर एक्‍शन करते हुए यूपी 112 के जवानों ने आमजनों को मेडिकल हेल्‍प उपलब्‍ध कराई है.

लॉक डाउन के चलते नहीं हो पा रही थी डायलिसिस
उन्‍होंने बताया कि एक ऐसी ही मेडिकल इमरजेंसी 26 मार्च की सुबह लखनऊ के महानगर इलाके से आई. एक कॉलर ने यूपी 112 पर फोन कर बताया कि वह किडनी का रोगी है. हफ्ते में दो बार उसकी डायलिसिस होती है और आज उसको डायलिसिस करवानी है. लॉक डाउन के चलते कोई भी वाहन या साधन  अस्पताल तक जाने के लिए नहीं मिल रहा है. इस कॉल पर कार्रवाई करते हुए 112 कंट्रोल रूम से तुरंत उस इलाके में मौजूद पुलिस रिस्पांस व्हीकल 0482 को यह इवेंट नोट कराया गया.

यूपी पुलिस की मदद से संभव हुई डायलिसिस
पीआरवी कमांडर ज्योतिष नारायण पाठक कॉलर से मिले और उनकी परेशानी को समझा. पीआरवी कमांडर को कॉलर की समस्या जायज़ लगी तो पीड़ित को गोमतीनगर के नोवा हॉस्पिटल पहुंचाया, जहां डायलिसिस होनी थी. यूपी 112 के एडीजी असीम अरुण ने बताया कि संकट की इस घड़ी में उत्तर प्रदेश पुलिस परेशान लोगों के साथ खड़ी है. बेहतरीन ड्यूटी के लिए पीआरवी 0482 को पीआरवी ऑफ द वीक का सर्टिफिकेट दिया जा रहा है.

यह भी पढ़ें:

लापता युवक का शव नहर से बरामद, गुस्‍साए लोगों ने तोड़ी पुलिस की गाड़ी

COVID-19: भदोही की बेटियों ने छेड़ी कोरोना से जंग, घर-घर बनाए गए मास्‍क, गांव भी हुआ सेनेटाइज

Tags: Corona, Corona Virus, Coronavirus, UP 112, UP police, Uttar pradesh news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर