होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /Dataganj Assembly Seat Result : दातागंज से BJP के राजीव सिंह उर्फ बब्बू भैया ने दर्ज की जीत

Dataganj Assembly Seat Result : दातागंज से BJP के राजीव सिंह उर्फ बब्बू भैया ने दर्ज की जीत

दातागंज विधानसभा के मतदाता 1990 से लगातार दो बार एक ही प्रत्‍याशी को जिताने की परंपरा निभा रहे हैं.

दातागंज विधानसभा के मतदाता 1990 से लगातार दो बार एक ही प्रत्‍याशी को जिताने की परंपरा निभा रहे हैं.

Dataganj Assembly Seat Result: दातागंज विधानसभा के मतदाता 1990 से लगातार दो बार एक ही प्रत्‍याशी को जिताने की परंपरा ...अधिक पढ़ें

    बदायूं.  Dataganj Assembly  Seat Result :  90 के दशक से दातागंज विधानसभा सीट का चुनावी इतिहास हर प्रत्‍याशी के लगातार दो बार जीतने का है. विधानसभा चुनाव 2022 में दातागंज से इस बार फिर भाजपा ने राजीव कुमार सिंह (BJP Candidate Rajiv Kumar Singh) को उतारा है. समाजवादी पार्टी की की तरफ से अर्जुन सिंह (SP Candidate Arjun Singh) मैदान में थे. बहुजन समाज पार्टी ने रचित गुप्‍ता (BSP Candidate Rachit Gupta ) पर भरोसा जताया तो कांग्रेस से आतिफ खान (INC Candidate Atif Khan) अपनी किस्‍मत आजमा रहे थे. इस सीट पर भाजपा और सपा में मुकाबला था.

    दातागंज से बीजेपी प्रत्याशी राजीव सिंह ने दर्ज की जीत
    दातागंज विधानसभा सीट से बीजेपी उम्मीदवार राजीव कुमार सिंह उर्फ बब्बू भइया ने चुनावी लड़ाई जीत ली है. उन्होंने सपा प्रत्याशी अर्जुन सिंह को लगभग 10 हजार वोटों से मात दी. राजीव सिंह को कुल 85278 वोट मिले जबकि वहीं अर्जुन सिंह को कुल 75988 वोट मिले.

    यह भी पढ़ें-Deoria Assembly Seat Result: देवरिया से शलभ मणि त्रिपाठी को बड़ी जीत, सपा प्रत्याशी को 39 हजार से ज्यादा वोटों से दी मात

    आपके शहर से (लखनऊ)

    दातागंज विधानसभा में दूसरे चरण में 14 फरवरी को वोट पड़े थे. इस बार 2017 के चुनाव के मुकाबले यहां थोड़ी ज्‍यादा वोटिंग हुई है. इस बार यहां 58.20 फीसदी वोट पड़े हैं जबकि 2017 में 57.65 फीसदी मतदान हुआ था. भारतीय राजनीति में पार्टी के रूप में गठन के बाद सबसे कठिन 1985 के चुनाव में भाजपा जिन चंद सीटों पर जीती थी, उनमें बदायूं जिले की दातागंज सीट भी थी. अब तक भाजपा यहां से चार बार जीत चुकी है.

    2017 में बीजेपी ने बसपा को हराया

    साल 2017 में राजीव कुमार सिंह ने बसपा के दो बार के विधायक सिनोद कुमार शाक्‍य को हैट्रिक लगाने से रोका था. इस चुनाव में भाजपा के राजीव को 79110 वोट मिले थे, सिनोद 53351 मत ही प्राप्‍त कर सके थे. जीत का अंतर 25 हजार से अधिक का था. 3.89 लाख मतदाताओं वाली दातागंज विधानसभा सीटपर यादव वोटरों की संख्‍या करीब 55 हजार है, क्षत्रिय 52 हजार, मुस्‍लिम 45 हजार, कश्‍यप 40 हजार और मौर्य वोटर करीब 35 हजार हैं.

    दो बार जिताने की परंपरा

    90 के दशक से दातागंज विधानसभा सीट का चुनावी इतिहास हर प्रत्‍याशी के लगातार दो बार जीतने का है. साल 1991 और 93 में भाजपा जीती थी. इसके बाद लगातार दो बार यह सीट सपा के कब्‍जे में रही. 2007 और 2012 का चुनाव यहां से बसपा ने जीता. कांग्रेस भी इस सीट से पांच बार जीत चुकी है. आखिरी बार 1989 के चुनाव में जीती थी. 1993 के बाद इस सीट को जीतने में भाजपा को भी 2017 तक 24 साल लग गए.  देखना यह है कि 2022 के विधानसभा चुनाव में दातागंज के मतदाता दो बार लगातार जिताने की परंपरा पर कायम रहते हैं या फिर कोई नई परंपरा की नींव डालते हैं.

    Tags: Assembly elections, Uttar Pradesh Elections

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें