लाइव टीवी

देवरिया: 20 टीचर बर्खास्त, FIR के आदेश, सरकारी धन की भी होगी रिकवरी

News18 Uttar Pradesh
Updated: January 19, 2020, 12:37 PM IST
देवरिया: 20 टीचर बर्खास्त, FIR के आदेश, सरकारी धन की भी होगी रिकवरी
उत्‍तर प्रदेश में फर्जी शिक्षकों पर कार्रवाई की गई है. (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)

फर्जी दस्‍तावेज के आधार पर शिक्षक की नौकरी पाने के मामले की जांच STF भी कर रही थी. दूसरी तरफ, बेसिक शिक्षा विभाग भी छानबीन में जुटा था.

  • Share this:
देवरिया. उत्तर प्रदेश के देवरिया जिले के शिक्षा विभाग में इस समय हड़कंप मचा हुआ है. दरअसल, आठ महीने की लंबी जांच के बाद जिले के 20 टीचरों (Teachers) को बर्खास्त कर दिया गया है. यह जांच यूपी एसटीएफ (UP STF)और शिक्षा विभाग के अफसरों ने मिल कर की थी. उधर, अभी भी कई टीचर स्कूलों से छुट्टी लेकर लापता बताए जा रहे हैं. बेसिक शिक्षा विभाग ऐसे शिक्षकों के पीछे लगा है. यह सभी टीचर 2016-2017 के भर्ती हुए थे.

यूपी एसपटीएफ ने पकड़े तीन फर्जी टीचर
दरअसल, यूपी में फर्जी शिक्षकों की जांच एसटीएफ भी कर रही थी. जिले के तीन टीचर फर्जी प्रमाणपत्रों के सहारे स्कूलों में कार्य कर रहे थे, लेकिन जब एसटीएफ ने जांच की तो पूरा फर्जीवाड़ा खुलकर सामने आ गया.

BSA की छानबीन में 17 टीचरों की नौकरी गई

बेसिक शिक्षा विभाग ने भी कई संदिग्ध टीचरों के प्रमाणपत्रों की जांच करवाई तो 17 टीचर फर्जी डॉक्यूमेंट के सहारे नौकरी करते पाए गए. कुल मिलाकर अब तक 20 टीचरों को नौकरी से बर्खास्त किया जा चुका है.

क्या बोले जिम्मेदार अफसर?
बेसिक शिक्षा अधिकारी प्रकाश नरायण श्रीवास्तव ने बताया कि लंबी जांच पड़ताल के बाद 20 टीचरों के खिलाफ बर्खास्तगी की कार्रवाई की गई है. सभी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर सरकारी धन की रिकवरी भी की जाएगी. यह सभी टीचर जालसाजी के सहारे नौकरी कर रहे थे.

ये भी पढ़ें:

डीसीएम और कार की भीषण टक्कर में 5 झुलसे, दोनों गाड़ियां धू-धू कर जलीं

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देवरिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 19, 2020, 12:07 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर