Home /News /uttar-pradesh /

birds lovers man keep more then 100 indian and foreign parrots in his house of deoria upns

पक्षी प्रेम की अनूठी मिसाल: यूपी के इस घर में रहते हैं 100 से अधिक देशी-विदेशी तोते

पक्षियों के प्रति इनका प्रेम बेहद खास है.

पक्षियों के प्रति इनका प्रेम बेहद खास है.

सभी तोते के पैरों में एक रिंग पड़ी हुई है. इस रिंग को स्कैन करने के बाद इन तोतों के नस्ल, उम्र, नर या मादा और तोते का पूरा कुंडली पता चल जाता है. यह विदेशी तोते देश के मुंबई, केरला, कर्नाटक जैसे राज्यों से आये हैं तो वहीं अर्जेंटीना देश पेरागोनीयनकन्नू, ब्राजील देश का शंखनूर, यलो साइडेड कन्नड़, ऑस्ट्रेलिया देश का गोल्डमेन्टररोजील, काकारील, हंग्री का फ्रिन्च जैसे तोते मौजूद है.

अधिक पढ़ें ...

देवरिया. उत्तर प्रदेश के देवरिया जिले में एक शख्स ने देशी-विदेशी तोते का आशियाना अपने घर में बनाया है. और करीब 100 से अधिक विदेशी तोते का भंडार है. उमा नगर कॉलोनी के रहने वाले संदीप दुबे पेश से एक बैंक कर्मी हैं, लेकिन इनके घर की पहचान तोता वाले घर के रूप में होती है. संदीप दुबे पास 20 से अधिक विदेशी नस्ल के 100 से अधिक तोते का घर है. जिसमें सबसे बुद्धिमान तोते माने जाने वाला फिंच भी है. तोते की चहचहाट की गूंज सुकून देने वाली है. संदीप दुबे ने बताया कि जब वह 10 साल के थे तभी से उनको तोता रखने का शौक हुआ. लेकिन भारतीय तोते को पिंजरे में रखा नहीं जाता है. क्योंकि यह कानूनी अपराध है. पक्षियों के प्रति इनका प्रेम बेहद खास है.

इसलिए उन्होंने भारत के कई राज्यों से विदेशी पक्षियों को मंगवाया. इतना ही नहीं वह अफ्रीका अर्जेंटीना, ब्राजील और ऑस्ट्रेलिया से भी कई प्रकार के विदेशी तोतों को मंगवाए हैं. जिसके लिए वह लाखों रुपये खर्च करते है. संदीप ने इसके लिए अपने घर के बगल में ही एक प्लाट खरीदा है. जहां लाखों रुपए की लागत से तोते का घर बनवाया है. संदीप बताते हैं कि इन तोतों को अपने बच्चे जैसा प्यार करते हैं. सुबह 4 बजे सुबह उठ कर सभी तोते को चना, मक्का, काबुली चना और मूंगफली के अलावा अंकुरित बीज देते हैं. इसके बाद 10 बजे अमरूद, पपीता खिलाते हैं. दोपहर 2 बजे दिन में दाना देते हैं और फिर 6 बजे इन तोतों को मौसमी फलों का स्वाद चखाते है.

UP: शिवपाल के बाद ओम प्रकाश राजभर ने आजम खान से मिलने का मांगा समय, बढ़ी हलचल

तोते को खाना खिलाने के लिये पिजड़े में एक राउंडिंग बाउल बनवाया है. जिसमें एक तरफ भोजन रखते है तो दूसरी तरफ तोते के लिए पानी रखा जाता है. सभी तोते के पैरों में एक रिंग पड़ी हुई है. इस रिंग को स्कैन करने के बाद इन तोतों के नस्ल, उम्र, नर या मादा और तोते का पूरा कुंडली पता चल जाता है. यह विदेशी तोते देश के मुंबई, केरला, कर्नाटक जैसे राज्यों से आये हैं तो वहीं अर्जेंटीना देश पेरागोनीयनकन्नू, ब्राजील देश का शंखनूर, यलो साइडेड कन्नड़, ऑस्ट्रेलिया देश का गोल्डमेन्टररोजील, काकारील, हंग्री का फ्रिन्च जैसे तोते मौजूद है. उन्होंने बताया कि इनके देखभाल के लिए पिजड़े के पास सीसीटीवी कैमरा भी लगवाया है और एक नौकर को भी रखा है. इन तोतों को देखने के लिए रोजाना इनके यहां भीड़ लगती है और औसतन सुबह से शाम तक करीब 10 से 15 लोग इन तोतों के दीदार के लिए इनके घर पहुंचते हैं.

Tags: CM Yogi, Deoria news, Up forest department, UP news, Wild life, Yogi government

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर