बाहुबली अतीक अहमद की बढ़ी मुश्किलें, देवरिया पहुंची CBI टीम

बता दें लखनऊ के रीयल एस्टेट कारोबारी मोहित जायसवाल का 26 दिसंबर 2018 को अपहरण कर देवरिया जेल ले जाया गया जहां उनकी पिटाई की गई थी. पिटाई से उनके हाथ की उंगली टूट गई थी.

News18Hindi
Updated: June 21, 2019, 12:25 PM IST
बाहुबली अतीक अहमद की बढ़ी मुश्किलें, देवरिया पहुंची CBI टीम
देवरिया जेल पहुंची CBI टीम
News18Hindi
Updated: June 21, 2019, 12:25 PM IST
पूर्व सांसद और माफिया अतीक अहमद द्वारा देवरिया जेल में लखनऊ के व्यापारी की पिटाई मामले में शुक्रवार सुबह सीबीआई की टीम जांच करने देवरिया जेल पहुंची. आठ सदस्यीय सीबीआई टीम के साथ पीड़ित प्रॉपर्टी डीलर मोहित अग्रवाल भी मौजूद थे. इस दौरान टीम ने जेल के कई अफसरों और स्टाफ से बातचीत की. इस मामले में सीबीआई ने बाहुबली अतीक अहमद समेत 17 अन्य लोगों को भी आरोपी बनाया है.

बता दें कि लखनऊ के रीयल एस्टेट कारोबारी मोहित जायसवाल को 26 दिसंबर 2018 को अपहरण कर देवरिया जेल ले जाया गया था, जहां उनकी पिटाई की गई थी. पिटाई से उनके हाथ की उंगली टूट गई थी. मामला मीडिया में आने के बाद डीएम अमित किशोर ने एडीएम प्रशासन राकेश पटेल और एएसपी शिष्यपाल सिंह के नेतृत्व में छह सदस्यों की जांच टीम गठित की थी.

अतीक अहमद और उसके साथियों द्वारा कथित तौर पर एक कारोबारी के अपहरण और मारपीट मामले में सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई को मामले की जांच करने का आदेश दिया था. मुख्‍य न्‍यायाधीश जस्टिस रंजन गोगोई की अध्‍यक्षता वाली पीठ ने अतीक अहमद को उत्‍तर प्रदेश के जेल से गुजरात के जेल में भेजने का भी आदेश दिया था.

अतीक अहमद पर देवरिया जेल में बंद रहने के दौरान एक रियल एस्‍टेट कारोबारी को अगवा करवा कर उनके साथ मारपीट करने का आरोप है. इस मामले के सामने आने के बाद पूर्व सांसद को बरेली जेल स्‍थानांतरित कर दिया गया था. इसके बाद चुनावों को देखते हुए अतीक को एक बार फिर से दूसरी जेल में भेज दिया गया. इस बार अतीक अहमद को नैनी जेल भेज दिया गया था. उसके बाद सुप्रीम कोर्ट ने कारोबारी का अपहरण करवाने के आरोपी अतीक अहमद को उत्‍तर प्रदेश से बाहर गुजरात के जेल में ट्रांसफर करने का निर्देश दिया था.

ये भी पढ़ें:

योग से शरीर स्वस्थ होता है और स्वस्थ शरीर श्रेष्ठ मेधा का निर्माण: CM योगी

अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस: राज्यपाल, CM योगी समेत हजारों ने किया योगासन
Loading...

संभल: योग कार्यक्रम के दौरान तीरंदाज का मोबाइल ले उड़ा बंदर

सावधान! भीम, पेटीएम व गूगल पे भी नहीं रहा सुरक्षित, इस तरह सेंधमारी कर रहे ठग

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

 
First published: June 21, 2019, 10:07 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...