Home /News /uttar-pradesh /

हेलिकॉप्टर हादसा: घायल ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह की गोरखपुर में भी रही है तैनाती, उड़ाते रहे हैं जगुआर

हेलिकॉप्टर हादसा: घायल ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह की गोरखपुर में भी रही है तैनाती, उड़ाते रहे हैं जगुआर

हेलिकॉप्टर हादसा: वरुण सिंह की प्रारंभिक पढ़ाई उड़ीसा में हुई है. (File photo)

हेलिकॉप्टर हादसा: वरुण सिंह की प्रारंभिक पढ़ाई उड़ीसा में हुई है. (File photo)

Coonoor Helicopter Crash: इलाके के लोग वरुण सिंह की जल्द स्वस्थ होने के लिए मंदिर में प्रार्थना कर हैं. स्थानीय लोगों ने कहा कि हम सब मिलकर पूजा पाठ कर रहे है. वरुण हमारे गांव के रहने वाले है, उनकी रक्षा के लिये प्रार्थन कर रहे हैं. यह दुर्घटना दुर्भाग्यपूर्ण है. भगवान कि कृपा है कि एक बचा है, जिसका इलाज चल रहा है. आर्मी में कोई भी घटना होती है तो उसकी जांच जरूर होती है. इस हादसे की जांच के बाद ही सच सामने आएगा.

अधिक पढ़ें ...

    देवरिया. तमिलनाडु (Tamilnadu) के कुन्नूर में क्रैश हुए हेलिकॉप्टर (Coonoor Helicopter Crash) में सीडीएस बिपिन रावत (CDS Bipin Rawat) और उनकी पत्नी समेत 13 सैन्य अधिकारियों की मौत हो गई है. हेलिकॉप्टर में कुल 14 लोग सवार थे और जो एक जीवित बचे हैं उनमें देवरिया (Deoria) के रहने वाले वरुण सिंह (Group Captain Varun Singh) हैं. वह गंभीर रूप से घायल हैं और जिंदगी और मौत से जंग लड़ रहे हैं. वरुण सिंह देवरिया जिले के रुद्रपुर के कंहौली गांव के रहने वाले हैं. जैसे ही हेलीकाप्टर क्रैश की खबर आई परिवार समेत गांव में सन्नाटा पसर गया. देर रात तक इलाके के लोग मंदिरों में उनके जल्द स्वस्थ होने के लिए प्रार्थना करते रहे.

    इलाके के लोग वरुण सिंह की जल्द स्वस्थ होने के लिए मंदिर में प्रार्थना कर हैं. स्थानीय लोगों ने कहा कि हम सब मिलकर पूजा पाठ कर रहे है. वरुण हमारे गांव के रहने वाले है, उनकी रक्षा के लिये प्रार्थन कर रहे हैं. यह दुर्घटना दुर्भाग्यपूर्ण है. भगवान कि कृपा है कि एक बचा है, जिसका इलाज चल रहा है. आर्मी में कोई भी घटना होती है तो उसकी जांच जरूर होती है. इस हादसे की जांच के बाद ही सच सामने आएगा. वरुण सिंह के बड़े पिताजी ने बताया कि अभी उनकी हालत नाजुक है और वे ICU में एडमिट है.

    पिता भी सेना से रिटायर्ड
    बता दें कि देवरिया में रुद्रपुर कोतवाली क्षेत्र के कन्हौली गांव के रहने वाले वरुण सिंह वायुसेना में ग्रुप कैप्टन हैं. उनकी तैनाती तमिलनाडु के वेलिंग्टन में है. वहीं पर उनके साथ में उनकी पत्नी और एक बेटा व बेटी भी रहते हैं. उनके पिता कर्नल केपी सिंह सेना से रिटायर्ड हैं. मध्यप्रदेश के भोपाल में उनका अपना मकान भी है. वह पत्नी उमा सिंह के साथ वहीं पर रहते हैं, जबकि वरुण सिंह के भाई तनुज सिंह नेवी में हैं. हादसे के बाद से वरुण की पत्नी उनके साथ अस्पताल में हैं.

    गोरखपुर में उड़ाया जगुआर 
    गौरतलब है कि मंगलवार दोपहर तमिलनाडु के कुन्नूर में में हुए हेलीकॉप्टर  सीडीएस विपिन रावत, उनकी पत्नी समेत 11 अन्य सैन्य अधिकारीयों की मौत हो गई थी. इस हादसे में सिर्फ ग्रुप कैप्टेन वरुण सिंह ही जीवित बचे हैं, लेकिन उनकी हालत गंभीर बनी हुई है. गोरखपुर विश्वविद्यालय के गृह विभाग की विभागाध्यक्ष प्रो दिव्यरानी सिंह उनकी चचेरी बहन हैं. उन्होंने बताया कि वरुण सिंह के घायल होने की सूचना पर पूरा परिवार घबरा गया. अब सभी यही प्रार्थना कर रहे हैं कि वे जल्द ठीक होकर घर आएं. उन्होंने बताया कि जब वरुण को शौर्य चक्र मिला तो पुरे गांव का सीना गर्व से चौड़ा हो गया था. उन्होंने बताया कि 2007 से 2009 के बीच में उनकी तैनाती गोरखपुर में रही है. उस दौरान वे जगुआर फाइटर प्लेन उड़ाते रहे हैं. वे एक फाइटर पायलट हैं.

    Tags: Coonoor Helicopter Crash, Deoria Group Captain Varun Singh, Deoria news, UP news, Up news in hindi

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर