प्रशासन को नहीं मालूम देवरिया शेल्टर होम से गायब 20 लड़कियों की डिटेल

उधर मामले में महिला एवं बाल कल्याण मंत्री रीता बहुगुणा जोशी ने कहा कि शेल्टर होम से 23 बच्चे मिले हैं. बाकी गायब बच्चों का रिकार्ड्स से टैली करवाकर पता लगाया जा रहा है.

News18 Uttar Pradesh
Updated: August 7, 2018, 1:27 PM IST
प्रशासन को नहीं मालूम देवरिया शेल्टर होम से गायब 20 लड़कियों की डिटेल
देवरिया स्थित मां विंध्यवासिनी बालिका संरक्षण गृह
News18 Uttar Pradesh
Updated: August 7, 2018, 1:27 PM IST
देवरिया के मां विंध्यवासिनी बालिका संरक्षण गृह से अब तक 20 लड़कियों के गायब होने की बात सामने आ रही है. मामले में पता चला है कि संरक्षण गृह की तरफ से जिला प्रशासन को 43 लड़कियां होने की जानकारी दी गई थी. 2017 में संचालिका गिरजा त्रिपाठी ने बताया था कि यहां 43 लड़कियां थीं. वहीं पुलिस की छापेमारी में अब तक 23 लड़कियां ही बरामद हुई हैं. रिपोर्ट के आधार पर 20 लड़कियां गायब मानी जा रही हैं. लेकिन ये कौन हैं, इनका नाम और पता क्या है इस पर निलंबित किए गए पूर्व डीपीओ भी कुछ नहीं बता पा रहे हैं. जानकारी के अनुसार निलंबित डीपीओ सौंपी गई लड़कियों की पत्रावली खोज रहे हैं.

उधर मामले में महिला एवं बाल कल्याण मंत्री रीता बहुगुणा जोशी ने कहा कि शेल्टर होम से 23 बच्चे मिले हैं. बाकी गायब बच्चों का रिकार्ड्स से टैली करवाकर पता लगाया जा रहा है. मंत्री ने कहा कि मंडल स्तर पर सरकार बड़े बाल गृह खोलेगी. सरकार केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी के सुझावों पर भी अमल करेगी. बीजेपी की सरकार जिम्मेदार एनजीओ को काम सौंप रही है.

देवरिया के मां विंध्यवासिनी बालिका संरक्षण गृह में देह व्यापार के खुलासे पर महिला एवं बाल विकास मंत्री डॉ रीता बहुगुणा जोशी ने मंगलवार को विपक्ष पर मामले का राजनीतिकरण करने का आरोप लगाया है. लखनऊ में एक प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा कि जो दल इस मामले में राजनीति कर रहे हैं, पहले वे बताएं किनके राज में ये शेल्टर होम फले-फूले?

रीता बहुगुणा जोशी ने कहा कि देवरिया संरक्षण गृह को मान्यता 2010 में ली थी. उन्होंने कहा कि बसपा और सपा सरकार में इस गृह को बढ़ावा मिला. हाईकोर्ट के फैसले के बाद 2017 में सीबीआई द्वारा सभी बाल गृहों की जांच की बात सामने आई. हमारी सरकार ने 21 ऐसे गृहों की मान्यता समाप्त कर दी. उन्होंने कहा कि चाइल्ड वेलफेयर कमिटी में सपा और बसपा ने गलत लोगों को रखा. हमारी सरकार मामले में 70 लोगों के खिलाफ कार्रवाई कर रही है.

मंत्री ने कहा कि देवरिया खुलासे के बाद सरकार पूरी तत्परता से जांच करवा रही है. मां विंध्यवासिनी बालिका संरक्षण गृह मामले में डीपीओ ने 15 नोटिस दिए थे. मामले में स्थानीय स्तर पर लापरवाही हुई है. अगर हम थोड़ी सावधानी काम करते तो यह घटना नहीं होती. आज शाम को जांच रिपोर्ट आने के बाद सख्त कार्रवाई की जाएगी.

रीता बहुगुणा जोशी ने कहा कि देवरिया मामले में प्रारंभिक जांच में यौन शोषण की बात सामने आ रही है. दो सदस्यीय जांच टीम की रिपोर्ट मंगलवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को सौंपी जाएगी. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री मामले को लेकर काफी गंभीर हैं.

(रिपोर्ट: नरेन्द्र यादव)
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर