देवरिया शेल्टर होम कांडः बिहार से गायब बच्ची ने 24 बच्चों को कराया नर्क से आजाद

5 अगस्त को 10 साल की मुस्कान (कल्पनिक नाम) मां विंध्यवासनी बालिका गृह से भाग कर पुलिस थाने पहुंच गई थी. उसने सबसे पहले संरक्षण गृह से चल रहे बालिकाओं के यौन शोषण की बात पुलिस को बताई थी.

News18 Uttar Pradesh
Updated: August 8, 2018, 12:44 PM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: August 8, 2018, 12:44 PM IST
ढाई माह पहले बिहार प्रांत के आम के बगीचे से एक बच्ची गायब हुई थी. इसी गायब बच्ची के साहस से मां विंध्यवासिनी बालिका संरक्षण गृह के घिनौने कारनामे का खुलासा हुआ था. 5 अगस्त को 10 साल की मुस्कान (कल्पनिक नाम) मां विंध्यवासनी बालिका गृह से भाग कर पुलिस थाने पहुंच गई थी. उसने सबसे पहले संरक्षण गृह से चल रहे बालिकाओं के यौन शोषण की बात पुलिस को बताई थी. इसके बाद पुलिस ने 5 अगस्त को ही मां विंध्यवासिनी बालिका गृह में छापा मारकर 24 बच्चों को बरामद किया था.

मीडिया में इस खबर और इससे जुड़े फोटो से बहादुर बच्ची मुस्कान के माता-पिता उसे पहचान गए और बिहार से देवरिया पहुंच गए. बच्ची की मां मोबाइल में उसका फोटो देखकर रोने लगी. मुस्कान की छोटी बहन ने जब अपनी बड़ी बहन मुस्कान का मोबाइल में वीडियो देखा तो वह दीदी-दीदी कह कर रोने लगी.

मुस्कान का असली नाम कुछ और है और जब वह मां विंध्यवासिनी बालिका गृह में पहुंची तो उसका नाम कुछ और लिखा गया. बच्ची ढाई माह पहले अपने गांव के आम के बगीचे से गायब हुई थी. इसके बाद उसके माता-पिता ने कई स्थानों पर उसकी खोज की लेकिन वह नहीं मिली, लेकिन जब मीडिया में देवरिया की कलंक कथा सामने आई तो उसके माता-पिता बुधवार को देवरिया पहुंच गए और रोने लगे.

ये भी पढ़ें -

देवरिया कांड: सीएम योगी आदित्यनाथ ने सीबीआई को सौंपी मामले की जांच

योगी सरकार ने बढ़ाया होमगार्डों का दैनिक भत्ता, अब मिलेगा 500 रुपए

लखनऊ के बेरोजगारों के लिए खुशखबरी! ये बड़ी कंपनी 1 हजार लोगों को देगी नौकरी
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर