देवरियाः आरटीआई में खुलासा, फर्जी कागजात पर हुई थी युवक की नियुक्ति

सूबे के देवरिया जिले में एक बड़े फर्जीवाड़े का खुलासा हुआ है. एक आरटीआई के जरिए हुए खुलासे के मुताबिक जिला प्रशासन द्वारा चौकीदार पद पर नियुक्त किए गए व्यक्ति के कागजात फर्जी हैं बावजूद इसके युवक के खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं की गई है.

ETV UP/Uttarakhand
Updated: October 23, 2017, 3:18 PM IST
ETV UP/Uttarakhand
Updated: October 23, 2017, 3:18 PM IST
सूबे के देवरिया जिले में एक बड़े फर्जीवाड़े का खुलासा हुआ है. एक आरटीआई के जरिए हुए खुलासे के मुताबिक जिला प्रशासन द्वारा चौकीदार पद पर नियुक्त किए गए व्यक्ति के कागजात फर्जी हैं बावजूद इसके युवक के खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं की गई है.

मामला राज्य मंत्री जय प्रसाद निषाद के गृह विधान सभा रुद्रपुर का है. जिला प्रशासन ने रुद्रपुर तहसील के खोरमा गांव में चौकीदार पद पर देव वचन नामक जिस व्यक्ति की नियुक्ति की थी, उसके सभी कागजात फर्जी पाए गए हैं. यह खुलासा खोरमा गांव के प्रधान द्वारा किए गए एक आरटीआई में हुआ.

प्रधान ने बताया कि उनके फर्जी हस्ताक्षर से देव वचन नामक युवक की नियुक्त गांव चौकीदार पद पर कर दी गई जबकि जिला प्रशासन को दिए गए देव वचन के शैक्षिक प्रमाण पत्र पूरी तरह से फर्जी हैं. उन्होंने बताया कि चौकीदार पद के लिए दिया गया आवेदन भी सादे पन्ने पर लिखा गया है.

रिपोर्ट के मुताबिक इस फर्जीवाड़े के खिलाफ गांव के आधा दर्जन लोगों ने जिलाधिकारी कार्यालय में शिकायत की है, लेकिन फर्जी नियुक्ति के खिलाफ अभी तक कोई कार्यवाही नहीं की गई है. वहीं, संबंधित अधिकारी भी इस मामले पर कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है, क्योकि युवक की नियुक्ति में जिला प्रशासन के कई बङे अफसरों के हाथ फंसे हुए हैं.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...