पुलवामा आतंकी हमला: रोते हुए बोली शहीद की पत्नी- सरकार हो या नेता, सब स्वार्थी...

शहीद की पत्नी लक्ष्मी ने रोते हुए कहा कि शहीद होने पर कुछ नहीं होता है. सभी लोग पाकिस्तान को सजा देने की बात करते हैं लेकिन कुछ दिनों के बाद सभी चुप हो जाते हैं.

News18 Uttar Pradesh
Updated: February 15, 2019, 11:47 AM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: February 15, 2019, 11:47 AM IST
जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में शहीद हुए 40 जवानों में उत्तर प्रदेश के 12 सपूत शामिल हैं. इन शहीदों में से देवरिया के रहने वाले विजय मौर्या भी हैं. शहीद विजय मौर्या सीआरपीएफ में कांस्टेबल के पद पर तैनात थे. छुट्टी समाप्त कर वह 9 फरवरी को ड्यूटी के लिए घर से रवाना हुए थे. परिजनों के मुताबिक, विजय भी सीआरपीएफ की उसी बस में सवार थे, जिसे आतंकी हमले में निशाना बनाया गया था.

शहीद विजय मौर्या के तीन भाई और एक बहन हैं. इनकी दो साल की एक बेटी भी है. उनकी पत्नी लक्ष्मी ने रोते हुए कहा कि शहीद होने पर कुछ नहीं होता है. सरकार हो या नेता, सब स्वार्थी हैं. पत्नी ने कहा कि सभी लोग पाकिस्तान को सजा देने की बात करते हैं लेकिन कुछ दिनों के बाद सभी चुप हो जाते हैं. लेकिन इस जख्म के साथ उनको जिन्दगी भर दर्द सहना पड़ता है. वहीं, शहीद के पिता का कहना है कि खून का बदला खून होना चाहिए. पाकिस्तान का जिन्दा नाम भी नहीं बचना चाहिए.

परिजनों के अनुसार, भटनी थाना क्षेत्र के छपिया जयदेव गांव के रहने वाले विजय मौर्या शुरू से ही मेधावी छात्र थे. वे लगातार सेना में जाने की बात किया करते थे. करीब 10 साल पहले शहीद विजय मौर्या ने सीआरपीयफ को ज्वाइन किया था. वे जम्मू में सीआरपीएफ की 92 वीं बटालियन में कांस्टेबल के पद पर तैनात थे. विजय मौर्या की शहादत की सूचना मिलते ही पूरे गांव मे कोहराम मच गया. परिवार वालों का रो-रो कर बुरा हाल हो गया है.

रिपोर्ट- उमाशंकर भाटी

ये भी पढ़ें- 

पुलवामा आतंकी हमला: 'एक मां का बेटा हुआ है शहीद, देश के लिए तैयार खड़े हैं 10 बेटे'

पुलवामा आतंकी हमलाः आजम खान ने PM मोदी और राष्ट्रपति को ठहराया जिम्मेदार
Loading...

इस शख्स ने अपने कुत्ते का मनाया ऐसा जन्मदिन कि लोगों ने दांतों तले दबा ली उंगलियां



इस रिक्शेवाले के पांच खतों का जवाब दे चुके हैं PM मोदी, जानिए क्या है माजरा


Phd का एग्जाम देने आए बाहुबली नेता ने परीक्षा केंद्र पर ली Selfie, सोशल मीडिया पर वायरल


 
First published: February 15, 2019, 10:52 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...