देवरिया शेल्‍टर होम केस: हाईकोर्ट ने पीड़िताओं की मनोरोग विशेषज्ञ से जांच कराने के दिए आदेश

देवरिया के मां विंध्यवासिनी शेल्टर होम में बच्चियों के साथ देह व्यापार के मामले में इलाहाबाद हाईकोर्ट ने पीड़िताओं की बाल मनोरोग विशेषज्ञ से जांच करने का आदेश दिया है.

News18Hindi
Updated: August 21, 2018, 7:23 PM IST
देवरिया शेल्‍टर होम केस: हाईकोर्ट ने पीड़िताओं की मनोरोग विशेषज्ञ से जांच कराने के दिए आदेश
(सांकेतिक तस्वीर)
News18Hindi
Updated: August 21, 2018, 7:23 PM IST
देवरिया के मां विंध्यवासिनी शेल्टर होम में बच्चियों के साथ देह व्यापार के मामले में इलाहाबाद हाईकोर्ट ने पीड़िताओं की बाल मनोरोग विशेषज्ञ से जांच कराने का आदेश दिया है. चीफ जस्टिस डी बी भोंसले और जस्टिस यशवंत वर्मा की खंडपीठ ने यह आदेश दिया है.

हाईकोर्ट ने निर्देश दिया है कि इस मामले में रिपोर्ट कोर्ट में समय से पेश किया जाए जिससे मामला स्पष्ट हो सके. कोर्ट ने डीएम ,एसएसपी व जिला प्रोबेशन अधिकारी से कहा है कि कोर्ट की अनुमति बगैर किसी को लड़कियों से न मिलने दिया जाए.

कोर्ट ने स्टेट चाइल्ड प्रोटेक्शन कमीशन के तीन सदस्यों को नोटिस जारी कर 27 अगस्त को तलब किया है. कोर्ट ने लूकरगंज की शोभा दरबारी,चक निरातुल की नीता साहू व जार्जटाउन के नरेन्द्र साहू को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है.

कोर्ट ने पूछा है कि कोर्ट के रोक के बावजूद लड़कियों का साक्षात्कार लेने की कोशिश क्यों की गई. कोर्ट ने कहा जिम्मेदार संस्था जवाब दे कि उनके खिलाफ क्यों न अवमानना कार्रवाई की जाए. इस मामले में अगली सुनावाई 27 अगस्त को होगी.

बता दें गोरखपुर-देवरिया के चर्चित अवैध सेल्टर हाऊस का मामले में गोरखपुर वृद्धा आश्रम लाई गयी मुख्य आरोपी गिरिजा त्रिपाठी के वृद्धा आश्रम को खंगाल रही है. 7 अगस्त को प्रशासन ने अवैध वृद्धाश्रम को सीज किया था.

यह भी पढ़ें-
इमरान ने सिद्धू को बताया 'शांति दूत', कहा- 'बदनाम करने वाले नहीं चाहते अमन'
मंदसौर में मासूम से रेप: अदालत ने दोनों दोषियों को सुनाई फांसी की सज़ा
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर