छोटे भाई की मौत का बदला लेने के लिए छात्रा ने मिड-डे मील में मिलाया जहर

आशंका है कि छात्रा ने अपने भाई की मौत का बदला लेने के लिए खाने में जहर मिलाया है. उधर, मौके पर पहुंची पुलिस ने ग्रामीणों का आक्रोश देखते हुए आरोपी छात्रा और उसकी मां को हिरासत में ले लिया है.

News18 Uttar Pradesh
Updated: July 18, 2018, 1:56 PM IST
छोटे भाई की मौत का बदला लेने के लिए छात्रा ने मिड-डे मील में मिलाया जहर
दाल में जहर मिलने की सूचना पर स्कूल में मौजूद भीड़
News18 Uttar Pradesh
Updated: July 18, 2018, 1:56 PM IST
देवरिया के भाटपाररानी के बनकटा ब्लॉक के बौलिया पांडेय पूर्व माध्यमिक विद्यालय में मंगलवार को आंठवीं की एक छात्रा ने मिड-डे मील की दाल में जहर मिला दिया. गनीमत रही कि रसोइए को दाल में से दुर्गंध आने पर खाना नहीं परोसा. जिसकी वजह से एक बड़ा हादसा टल गया. स्कूल के मिड-डे मील में जहर की सूचना मिलते ही स्कूल परिसर में भीड़ जमा हो गई. आशंका है कि छात्रा ने अपने भाई की मौत का बदला लेने के लिए खाने में जहर मिलाया है. उधर, मौके पर पहुंची पुलिस ने ग्रामीणों का आक्रोश देखते हुए आरोपी छात्रा और उसकी मां को हिरासत में ले लिया है और विद्यालय के रसोईघर को सील कर दिया है.

स्कूल की रसोइया राधिका ने बताया कि मंगलवार को प्राथमिक के 58 और पूर्व माध्यमिक के 109 बच्चों के चावल और सब्जियुक्त दाल बनाई गई थी. करीब 11 बजे बच्चों को मिड-डे-मील परोस जा रहा था. तभी छात्रा रसोईघर में घुस गई. इसके बाद जब राधिका अन्दर गई तो उसे दुर्गंध आई. उसने छात्र का हाथ सूंघ तो उसमें से भी वही दुर्गंध आ रही थी. इसके बाद राधिका ने खाना नहीं परोसा और इसकी जानकारी उसने प्रधानाध्यापक भृगुनाथ प्रसाद को दी. उन्होंने तत्काल रसोई घर का ताला बंद कराते हुए किसी भी बच्चे को भोजन देने से मना कर दिया.

दे​वरिया: स्कूल की छत से गिरकर छात्रा की संदिग्ध मौत, प्रिंसिपल फरार

प्रधानाध्यापक ने आला अधिकारियों को इसके बारे में बताया तो प्रशासनिक महकमे में हड़कंप मच गया. आनन-फानन में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बनकटा से प्रभारी चिकित्साधिकारी डॉक्टर बीएन यादव चिकित्सकों की टीम के साथ स्कूल पर पहुंचे और सभी छात्रों के स्वास्थ्य की जांच की। चिकित्सक के अनुसार सभी बच्चों की तबीयत ठीक है.

देवरिया में सामने आई स्कूल प्रबंधन की गुंडई, मासूमों पर टाॅर्चर

मिड डे मील में जहर होने की पर जिले की खाद्य विभाग की टीम मौके पर पहुंची और खाने की जांच में जुट गई. जांच करने पहुंचे खाद्य सुरक्षा अधिकारी अजीत तिवारी ने कहा कि दाल में जहर मिलाया गया था, क्योंकि दाल का रंग बदल गया था और कीटनाशक दवा की गंध आ रही थी. जांच के लिए भोजन का नमूना झांसी स्थित लैब में भेजा गया है. फिलहाल एसओ देवेंद्र सिंह यादव ने रसोइया की तहरीर पर छात्रा के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया.

बता दें कि आरोपी छात्रा के भाई की तीन अप्रैल को मिड-डे मील खाने को लेकर साथी छात्रों के साथ मारपीट हुई. इस दौरान एक ईंट आरोपी छात्रा के सिर पर लगी, जिसकी वजह से उसकी मौके पर ही मौत हो गई थी. हालांकि, छात्रा और उसकी मां ने खाने में कुछ भी मिलाने से साफ इनकार किया. मां का आरोप है कि कुछ लोग जानबूझकर उनकी बेटी को फंसाना चाहते हैं.

डीएम सुजीत कुमार ने कहा कि घटना बदले की भावना से प्रेरित लग रही है. उन्होंने बीईओ को निर्देश दिया है कि दोनों ही परिवारों के अन्य बच्चों को पास के ही अलग-अलग स्कूलों में दाखिला दिया जाए.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर