Home /News /uttar-pradesh /

Rampur Karkhana Assembly Seat: सपा की चुनौतियों से कैसे पार पाएगी भाजपा? जानें रामपुर कारखाना का समीकरण

Rampur Karkhana Assembly Seat: सपा की चुनौतियों से कैसे पार पाएगी भाजपा? जानें रामपुर कारखाना का समीकरण

UP Chunav 2022: देवरिया की इस सीट पर भाजपा को सपा से मिल रही चुनौती.

UP Chunav 2022: देवरिया की इस सीट पर भाजपा को सपा से मिल रही चुनौती.

Rampur Karkhana Assembly Seat Election: देवरिया जिले की रामपुर कारखाना विधानसभा सीट 2008 के परिसीमन के बाद अस्‍तित्‍व में आई थी. 2012 में हुए पहले चुनाव में सपा की गजाला लारी ने जीत दर्ज की थी. 2017 में भाजपा के कमलेश शुक्‍ला चुनकर विधानसभा पहुंचे थे. इस सीट पर गिरिजेश शाही उर्फ गुड्डू का भी प्रभाव है.

अधिक पढ़ें ...

देवरिया. रामपुर कारखाना विधानसभा सीट पर फिलहाल भाजपा का कब्‍जा है. कमलेश शुक्‍ला यहां से विधायक हैं. कमलेश ने 2017 के चुनाव में सपा की चर्चित विधायक रहीं फासिहा बशीर उर्फ गजाला लारी को हराकर जीता था. रामपुर कारखाना विधानसभा सीट 2008 के परिसीमन के बाद अस्‍तित्‍व में आई थी. साल 2012 के चुनाव में यहां से गजाला निर्वाचित हुई थीं. तब उन्‍होंने निर्दलीय गिरिजेश शाही उर्फ गुड्डू को सात हजार से अधिक वोटों से हराया था. गुड्डू का भी इस सीट पर अच्‍छा खासा प्रभाव है. 2017 के चुनाव में भी वह निर्दलीय मैदान में थे और तीसरे नंबर पर रहे थे.

कानपुर की मूल निवासी गजाला लारी ने सियासत की शुरुआत बसपा से की थी. अपने पति मुराद लारी के निधन के बाद उनकी सीट सलेमपुर से जीतकर 2002 में विधानसभा पहुंची थीं. विधायक रहते उन्‍होंने आगरा कैंट से बसपा विधायक चौधरी बसीर से 2003 में निकाह किया था. दोनों को एक संतान भी हुई. बाद में दोनों मुलायम सिंह यादव के साथ चले गए. मुलायम ने बसीर को मंत्री के दर्जे से भी नवाजा, लेकिन कुछ दिन बाद बसीर बगावती हो गए. गजाला सपा में ही बनी रहीं. जब 2012 में रामपुर कारखाना से जीतकर गजाला लखनऊ पहुंचीं तभी चौधरी बसीर ने तलाकनामा भेज दिया था. दोनों का तलाक उन दिनों अखबारों की सुर्खियों में रहा था.

2017 का परिणाम
भाजपा प्रत्‍याशी कमलेश शुक्‍ला को 62886 वोट मिले थे. सपा प्रत्‍याशी गजाला लारी को उन्‍होंने 9987 वोटों से हराया था. गजाला को 52899 वोट मिले थे.

जातीय गणित
3.28 लाख मतदाताओं वाली रामपुर कारखाना विधानसभा सीट पर अनुसूचित जाति जनजाति के वोटर करीब 52 हजार हैं. यादव 42 हजार, ब्राह्मण 38 हजार, कुशवाहा 32 हजार, सैंथवार और मुस्‍लिम 30-30 हजार हैं.

Tags: UP Election 2022, UP Vidhan sabha chunav

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर