Home /News /uttar-pradesh /

Salempur Assembly Seat: सलेमपुर सीट पर दोबारा जीतने के लिए भाजपा को लग गए 37 साल

Salempur Assembly Seat: सलेमपुर सीट पर दोबारा जीतने के लिए भाजपा को लग गए 37 साल

UP Chunav 2022: देवरिया जिले की सलेमपुर विधानसभा सीट पर जीत की जद्दोजहद में जुटे हैं दल.

UP Chunav 2022: देवरिया जिले की सलेमपुर विधानसभा सीट पर जीत की जद्दोजहद में जुटे हैं दल.

Salempur Assembly Seat Election: देवरिया की सलेमपुर सुरक्षित विधानसभा सीट पर भाजपा को पहली बार 1980 में जीत मिली थी. दूसरी बार 2017 की मोदी लहर में जीत मिली है. इस चुनाव में जीत दोहराना भाजपा के लिए चुनौती होगा. 2008 के परिसीमन से पहले तक यह सीट सामान्‍य हुआ करती थी.

अधिक पढ़ें ...

देवरिया. सलेमपुर विधानसभा सीट उन बिरले सीटों में से एक है, जहां गठन के तुरंत बाद भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को जीत मिली थी. पहला चुनाव भाजपा ने 1980 में लड़ा था. उसके प्रत्‍याशी दुर्गा प्रसाद मिश्र ने यहां जीत दर्ज की थी. इसके बाद उसे दोबारा जीतने में 37 साल लग गए. 2017 की मोदी लहर में काली प्रसाद ने जीत दिलाई. सलेमपुर सीट पहले सामान्‍य थी, 2008 के परिसीमन के बाद अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित कर दी गई.

सलेमपुर में पहला चुनाव 1967 में हुआ था. पहले दो चुनाव कांग्रेस ने जीता था. इसके बाद सोशलिस्‍ट पार्टी के पास यह सीट चली गई. आखिरी बार 1985 में यहां कांग्रेस जीत पाई थी. 1989 और 91 में जनता दल, 1993 से लेकर तीन लगातार चुनाव बसपा ने जीता, 2007 में यह सीट सपा के पास चली गई. 2012 में भी सपा ही जीती थी. आरक्षित होने से पहले तक लगातार दस साल तक इस सीट पर गजाला लारी विधायक रही थीं. आरक्षित होने के बाद वह रामपुर कारखाना चली गईं.

2017 का परिणाम

भाजपा के काली प्रसाद को 76175 वोट मिले थे. उन्‍होंने सपा की विजय लक्ष्मी गौतम को 25654 वोट से हराया था. विजय लक्ष्‍मी ने 2012 का चुनाव भाजपा के टिकट पर लड़ा था. तब भी वह सपा के मनबोध से हार गई थीं.

जातीय समीकरण

3.25 लाख मतदाताओं वाली सलेमपुर सुरक्षित विधानसभा सीट पर दलित वोटर करीब 46 हजार, यादव 41 हजार, मुस्‍लिम 39 हजार, ब्राह्मण 38 हजार, वैश्‍य 28 हजार, कुशवाहा वोटर 24 हजार और क्षत्रिय वोटर करीब 22 हजार हैं.

Tags: UP Election 2022, UP Vidhan sabha chunav

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर