हाथरस कांड: पीड़िता के घर पहुंचे डीएम, कहा- बयान बदलना है या नहीं, कल को हम बदले तो... देखें Video

पीड़िता के घर में पहुंचे जिलाधिकारी.
पीड़िता के घर में पहुंचे जिलाधिकारी.

वायरल वीडियो (Viral Video) में सुना जा सकता है कि डिस्ट्रिक्ट मैजिस्ट्रेट प्रवीण कुमार कह रहे हैं कि जो मीडिया आज आपके आगे-पीछे घूम रहा है, कुछ दिनों बाद वह आपके साथ नहीं होगा. हम ही साथ होंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 2, 2020, 6:49 AM IST
  • Share this:
हाथरस. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के हाथरस (Hathras) कांड का एक और वीडियो सोशल मीडिया (social media) पर वायरल (Viral Video) हुआ है. इस वीडियो में डिस्ट्रिक्ट मैजिस्ट्रेट (DM) प्रवीण कुमार बलात्कार पीड़िता के घर पर बैठे दिख रहे हैं. उनके पीछे कुछ पुलिसकर्मी भी नजर आ रहे हैं. आपको जानकर दुखद आश्चर्य हो सकता है कि डीएम प्रवीण कुमार पीड़ित परिवार को कोई भरोसा दिलाने नहीं पहुंचे, बल्कि वह धमकी भरे अंदाज में अपनी बात कह रहे हैं. वीडियो में सुना जा सकता है कि डीएम प्रवीण कुमार अपने साथ की कुर्सी पर बैठे बुजुर्ग को बयान बदलने के लिए धमकी दे रहे हैं. वह साफ तौर पर कह रहे हैं कि जो मीडिया आज आपके आगे-पीछे घूम रहा है, कुछ दिनों बाद वह आपके साथ नहीं होगा. हम ही साथ होंगे. इसलिए आप देख लें कि बयान बदलना है या नहीं बदलना. कल को हम भी बदल गए तो...

पीड़िता का मृत्युपूर्व दिया गया बयान

इस वीडियो के सामने आने के बाद इलाके के लोगों का जिलाधिकारी पर से भरोसा खत्म हो गया है. उन्हें उम्मीद थी कि जिलाधिकारी इस पीड़ित परिवार की मदद करेंगे, लेकिन वह तो पीड़ित के घर पहुंचकर उन्हें धमकाते नजर आए. आपको बता दें कि इससे पहले पीड़िता के बयान का वीडियो वायरल हुआ था. मौत से पहले उसने एक बयान में बताया था कि उसके साथ रेप हुआ था. उसके बाद दुपट्टे से उसके गला दबाया गया था, लेकिन चीख पुकार सुनकर मां के पहुंचने पर आरोपी फरार हो गए थे. इसी वीडियो में पीड़िता को कहते सुना जा सकता है कि आरोपियों ने इससे पहले भी उनके साथ रेप की कोशिश की थी, लेकिन उस वक्त उनके चंगुल से वह भागने में सफल रही थी. लेकिन, 14 सितंबर को ऐसा नहीं हुआ. आरोपी संदीप और रवि ने उनके साथ रेप किया. उस वक्त रामकुमार और लवकुश भी मौजूद थे. बता दें कि 15 दिन बाद 29 सितंबर को पीड़िता ने दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में दम तोड़ दिया था. मामले में सभी चारों आरोपी जेल में हैं.




पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट

इस बीच पीड़ि‍ता की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट (Postmortem Report) सामने आ गई है. सफ़दरजंग हॉस्पिटल (Safdarjung Hospital) के डॉक्टरों के पैनल द्वारा किए गए पोस्टमॉर्टम में कहा गया है कि युवती की मौत गले की हड्डी टूटने से हुई. रिपोर्ट में कहा गया है कि बार-बार गला दबाने से हड्डी टूटी थी. गले पर चोट के निशान भी मिले हैं. हालांकि, रिपोर्ट में रेप की बात नहीं कही गई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज