Coronavirus: वाराणसी की प्रसिद्ध गंगा आरती में श्रद्धालुओं के शामिल होने पर लगी रोक
Varanasi News in Hindi

Coronavirus: वाराणसी की प्रसिद्ध गंगा आरती में श्रद्धालुओं के शामिल होने पर लगी रोक
वाराणसी जिला प्रशासन ने सुबह-ए-बनारस की आरती पर भी रोक लगा दी है. (फाइल फोटो)

कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण (infection) को फैलने से रोकने के लिए जिला प्रशासन (District Administration) ने यह फैसला लिया है.

  • Share this:
वाराणसी (Varanasi).  कोरोना वायरस (Coronavirus) का असर अब विश्व प्रसिद्ध गंगा आरती (Ganga Aarti) पर भी पड़ गया है. संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए दशाश्वमेघ घाट (Dashashwamedh Ghat) पर होने वाली प्रसिद्ध गंगा आरती अब सूक्ष्म रूप से किया जायेगा. इतना ही नहीं, अब गंगा आरती में श्रद्धालुओं (Devotees) के शामिल होने पर रोक लगा दी गई है. यह रोक जिला प्रशासन ((District Administration) की तरफ से जारी किए गए निर्देशों को ध्‍यान में रखते हुए लगाई गई है. बता दें कि गंगा आरती में प्रत्येक दिन हजारों की संख्या में श्रद्धालु शामिल होते हैं, जिसमें देशी और विदेशी पर्यटक भी शामिल हैं.

उल्‍लेखनीय है कि जिला प्रशासन में वाराणसी के दो घाटों पर होने वाली प्रसिद्ध आरती को सूक्ष्म करने के निर्देश दिए हैं. जिलधिकारी कौशल राज शर्मा ने कहा कि अगले आदेश तक दशाश्वमेघ घाट पर होने वाली प्रसिद्ध गंगा आरती अब सूक्ष्म रूप से की जाएगी. फिलहाल, इस आरती में पुजारी और कर्मचारी ही शामिल होंगे. पूजा आरती के समय किसी भी श्रद्धालु को दशाश्वमेघ घाट जाने की इजाजत नहीं होगी. उन्‍होंने बताया कि गंगा पूजन और आरती में किसी तरह का व्यवधान न हो और श्रद्धालुओं में संक्रमण भी ना फैले, इस बात को ध्‍यान में रखते हुए प्रशासन ने यह फैसला लिया है.

वाराणसी शहर में नहीं घूम सकेंगे विदेशी पर्यटक
विदेशी पर्यटकों की वाराणसी में एंट्री पर प्रतिबंध लगा दिया गया है. वाराणसी जिलधिकारी कौशल राज शर्मा द्वारा जारी किए गए आदेश में कहा गया है कि 15 अप्रैल तक बनारस शहर के अंदर कोई भी विदेशी पर्यटक भ्रमण नहीं कर सकेगा. निर्देशों में स्‍पष्‍ट किया गया है कि वाराणसी में मौजूद विदेशी पर्यटक अपने होटल, आवास, गेस्ट हाउस में ही रहेंगे. वह बाजार, सड़क, घाट, मंदिर कहीं भी नहीं जा सकते. इन निर्देशों के बाबत शहर के तमाम होटल संचालक और टूर ऑपरेटर भी सूचना भेज दी गई है.
सुबह-ए-बनारस की आरती पर भी लगी रोक


वाराणसी जिला प्रशासन ने सुबह-ए-बनारस की आरती पर भी रोक लगा दी है. अब केवल आरती की परंपरा ही निभाई जाएगी. आरती करने वाले करीब सात ब्राहमण के अलावा सिर्फ गंगा सेवा निधि और सुबह-ए-बनारस से जुड़े प्रबंधन के एक दो लोग ही आरती में मौजूद रहेंगे. उल्‍लेखनीय है कि इससे पहले श्रीकाशी विश्वनाथ मंदिर में गर्भगृह में भी श्रद्धालुओं के प्रवेश पर रोक लगा दी गई थी. गर्भगृह के बाहर अरघा लगा दिया गया है, जिसमे श्रद्धालुओं पर अपना गंगाजल अर्पित करेंगे. साथ ही मंदिर के अंदर प्रवेश के लिए मास्क और सेनेटाइज को भी अनिवार्य कर दिया गया है.

यह भी पढ़ें:

Coronavirus से बचाव के लिए सीआईएसएफ के 30 हजार जवानों ने अपनाई यह खास तरकीब
खाताधारक के रुपये अपने खाते में ट्रांसफर करने वाला HDFC बैंक का पूर्व असिस्टेंड मैनेजर गिरफ्तार

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading