Kanpur Shootout: अलीगढ़ रेंज के डीआईजी बोले- यूपी पुलिस का मनोबल कभी नहीं गिरने दूंगा
Etah News in Hindi

Kanpur Shootout: अलीगढ़ रेंज के डीआईजी बोले- यूपी पुलिस का मनोबल कभी नहीं गिरने दूंगा
यूपी पुलिस का मनोबल कभी नहीं दूंगा गिरने

बता दें कि 2 जुलाई की रात विकास दुबे (Vikas Dubey) ने अपने गुर्गों के साथ मिलकर दबिश देने पहुंची पुलिस टीम पर हमला किया था. इस हमले में क्षेत्राधिकारी देवेंद्र मिश्रा समेत आठ पुलिसकर्मी शहीद हो गए थे

  • Share this:
एटा. उत्तर प्रदेश के कानपुर में कुख्यात अपराधी विकास दुबे (Vikas Dubey) के खात्मे के बाद अलीगढ़ रेंज के डीआईजी ने रविवार को बड़ा दिया. एटा (Etah) पहुंचे अलीगढ़ रेंज के डीआईजी (DIG) डॉ. प्रीतिंदर सिंह ने कहा कि कानपुर एनकाउंटर केस के बाद हम किसी भी कीमत पर यूपी पुलिस का मनोबल कम नहीं होने देंगे. इसी दिशा में यूपी सरकार के निर्देशानुसार टॉप 10 हिस्ट्रीशीटरों की सूची तैयार कर उन्हें गिरफ्तार किया जा रहा है. साथ में अवैध रूप से अर्जित की गई संपत्ति को भी कुर्क किया जा रहा है. कानपुर कांड पर पुलिसकर्मियों के शहीद होने पर उन्होंने दुख जाहिर करते हुए कहा कि सभी पुलिस टीम को यूपी सरकार के द्वारा निर्देशित किया जा रहा है.

उन्होंने कहा कि दबिश देने के दौरान एसपीओ का पालन करें, वहीं प्रॉपर तरीके से दबिश के दौरान हथियार लेकर जाएं. डीआईजी ने बताया कि पुलिस हमेशा अपराधियों को पकड़ने की कोशिश करती है, लेकिन अगर अपराधी पुलिस और आम जनता पर खुले में फायरिंग करते हैं, तो पुलिस को मजबूरन जवाबी फायरिंग करनी पड़ती है.


सिह के मुताबिक पुलिस हमेशा क्रिमिनल जस्टिस सिस्टम के तहत अपराधियों को गिरफ्तार करने का प्रयास करती है. साथ ही उन्होंने कड़े शब्दों में कहा कि जब भी पुलिस पर अपराधी फायरिंग करेगा तो पुलिस द्वारा अपनी सुरक्षा में जवाबी फायरिंग की जाएगी.



ये भी पढे़ं- कोरोना की जंग में बलिया के इस शख्‍स ने किया बड़ा ऐलान, देहदान के लिए PM मोदी को लिखा पत्र

मुठभेड़ में मारा गया विकास दुबे
बता दें कि 2 जुलाई की रात विकास दुबे ने अपने गुर्गों के साथ मिलकर दबिश देने पहुंची पुलिस टीम पर हमला किया था. इस हमले में क्षेत्राधिकारी देवेंद्र मिश्रा समेत आठ पुलिसकर्मी शहीद हो गए थे. इस घटना के बाद विकास दुबे अपने गुर्गों के साथ फरार हो गया था. 9 जुलाई को ही उज्जैन के महाकाल मंदिर परिसर से विकास दुबे को पकड़ लिया गया. उसे कानपुर पुलिस और एसटीएफ की टीम कानपुर ला रही थी, तभी गाड़ी पलट गई और विकास दुबे हथियार छीनकर भागने लगा. पुलिस की जवाबी कार्रवाई में विकास दुबे भी मारा गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज