Assembly Banner 2021

एटा: कोरोना आइसोलेशन वार्ड का बना रखा था 'बियर बार', DM ने दिया सख्‍त कार्रवाई का आदेश

डीएम ने किया औचक निरीक्षण

डीएम ने किया औचक निरीक्षण

आइसोलेशन वार्ड में तैनात दो कर्मचारियों ने अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड को बियर बार बनाया हुआ था. DM और SSP के औचक निरीक्षण में य‍ह बात सामने आई.

  • Share this:
एटा. एक ओर जहां कोरोनावायरस (Coronavirus) की महामारी से पूरी दुनिया जंग लड़ रही है, वहीं दूसरी तरफ एटा जिला अस्पताल (District Hospital) में बड़ी लापरवाही सामने आई है. सोमवार को डीएम व एसएसपी ने जिला अस्पताल का औचक निरीक्षण किया. निरीक्षण के दौरान अस्पताल के कोरोना आइसोलेशन वार्ड में कर्मचारियों के बियर पीने का मामला सामने आया, जिसके बाद डीएम ने दो कर्मचारियों के खिलाफ जांच के बाद सेवा समाप्ति के निर्देश दिए हैं. दोनों ही कर्मचारियों ने कोरोना आइसोलेशन वार्ड को बियर बार बना रखा था.

दरअसल, मामला जनपद एटा के जिला अस्पताल का है, जहां कोरोना महामारी को लेकर जिला अधिकारी सुखलाल भारती और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार सिंह ने रात्रि में औचक निरीक्षण किया. इस दौरान डीएम व एसएसपी ने अस्पताल के कोरोना इमरजेंसी आइसोलेशन वार्ड का निरीक्षण किया, जहां आइसोलेशन वार्ड में तैनात दो कर्मचारियों ने अस्पताल के इमरजेंसी आइसोलेशन वार्ड को बियर बार बनाया हुआ था. पूरे वार्ड में चारों तरफ बियर की कैन बिखरी पड़ी थी. कोरोना आइसोलेशन वार्ड के इस नजारे को देखकर डीएम साहब का पारा चढ़ गया. आनन-फानन में जिला अधिकारी सुखलाल भारती ने वार्ड में तैनात दोनों कर्मचारियों को मेडिकल टेस्ट के लिए भिजवा दिया.

सेवा समाप्ति के आदेश
बताया जा रहा है कि आइसोलेशन वार्ड में तैनात दोनों कर्मचारी नियमों को ताक पर रखकर बड़े मजे से बियर उड़ा रहे थे और दारू पार्टी कर रहे थे. मामले को गंभीरता से लेते हुए डीएम ने तत्काल सीएमएस को मामले की जांच पड़ताल कर रिपोर्ट भेजने के निर्देश दिए हैं. साथ ही जिलाधिकारी सुखलाल भारती ने जांच में दोषी पाए जाने पर दोनों कर्मचारियों की आजीवन सेवा समाप्त करने का निर्देश भी सीएमएस को दिए हैं. इस वक्त देश में कोरोना महामारी को लेकर लोग जूझ रहे हैं.
अभी तक नहीं मिला है कोई पॉजिटिव


मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए जिला अधिकारी सुखलाल भारती ने कहा कि अनियमितताओं को लेकर दो कर्मचारियों के खिलाफ सेवा समाप्ति की कार्रवाई की जा रही है. वहीं, उन्होंने बताया कि जनपद में कोरोना आइसोलेशन वार्ड में कंट्रोल रूम बनाया जा रहा है, ताकि शासन द्वारा स्वास्थ्य कर्मचारियों की रद्द की गई ड्यूटीओं को लेकर कंट्रोल रूम से 8-8 घंटे की शिफ्ट लगाकर कोरोना जैसी महामारी से लड़ा जा सके. फिलहाल जनपद एटा में कोरोना से संक्रमित किसी मरीज की अब तक कोई पॉजिटिव रिपोर्ट नहीं आई है. एहतियात के तौर पर जिला प्रशासन द्वारा लगातार कोरोना से जुड़ी हर गतिविधि पर नजर रखी जा रही है.

ये भी पढ़ें:

COVID-19: लॉकडाउन को लेकर यूपी पुलिस की बड़ी कार्रवाई, अब तक 161 FIR दर्ज
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज