होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /एटा में दबंगाें का कहर, FIR लिखवाई तो परिवार को करना पड़ा गांव से पलायन, अब युवक की गोली मारकर हत्या

एटा में दबंगाें का कहर, FIR लिखवाई तो परिवार को करना पड़ा गांव से पलायन, अब युवक की गोली मारकर हत्या

एटा के जसरथपुर थाना क्षेत्र में दबंगों ने एक युवक की गोली मारकर हत्या कर दी

एटा के जसरथपुर थाना क्षेत्र में दबंगों ने एक युवक की गोली मारकर हत्या कर दी

एटा (Etah) के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार सिंह ने बताया कि जसरथपुर के गांव में एक 22 वर्षीय युवक का शव मिला है. यु ...अधिक पढ़ें

एटा. उत्तर प्रदेश के जनपद एटा (Etah) में दबंगों का कहर देखने को मिला है. दबंगों ने एक युवक की गोली मारकर निर्मम हत्या कर दी और फरार हो गए. बताया जा रहा है कि आरोपी दबंगों पर मृतक युवक की बहन को भगा ले जाने का आरोप था. पुलिस ने मामला तो दर्ज कर लिया था लेकिन गिरफ्तारी किसी की नहीं कर सकी. यही नहीं पीड़ित परिवार का आरोप है कि वे दबंगों के डर से गांव से पलायन भी कर चुके थे, बावजूद इसके पुलिस ने कार्रवाई नहीं की. अब पुलिस की लापरवाही के चलते युवक को अपनी जान गंवानी पड़ी. फिलहाल सूचना पर पहुंची पुलिस ने युवक के शव को पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेज दिया है और आरोपियों की तलाश में जुट गई है.

ये पूरा मामला जनपद एटा के थाना जसरथपुर क्षेत्र के गांव दहलिया पूठ का है. यहां दबंगों ने एक युवक की गोली मारकर हत्या कर दी. हत्या की खबर सुनते ही क्षेत्र में सनसनी फैल गई. सूचना मिलते ही  पुलिस प्रशासन में हड़कंप मच गया और आनन-फानन पुलिस के आलाधिकारी भी मौके पर पहुंच गए. अब आरोपियों की धर-पकड़ के लिए छापेमारी की जा रही है.

27 सितंबर को नाबालिग बहन को भगाने का आरोप

दरअसल 27 सितंबर को मृतक के भाई ने थाने पर सूचना देते हुए बताया था कि उसकी 16 वर्षीय नाबालिग बहन को गांव का ही एक युवक बहला-फुसलाकर भगा ले गया है. पुलिस ने 29 सितम्बर को इसकी रिपोर्ट दर्ज की और आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया था. वहीं आरोपी युवक की गिरफ्तारी और किशोरी की बरामदगी के बाद कोर्ट में 161 और 164 के बयानों में एक महिला समेत 4 लोगों के नाम प्रकाश में आए, जिन्हें पुलिस अभी तक गिरफ्तार नहीं कर सकी है. मृतक के परिजनों ने इन्ही प्रकाश में आये नामजदों पर युवक की हत्या करने का आरोप लगाया है.

परिवार ने सुरक्षा के लिए एसएसपी से लेकर सीएम तक लगाई गुहार

इतना ही नही मृतक के भाई ने नामजद आरोपियों के भय से अपनी बहन और अपने परिवार की सुरक्षा के लिए एक प्रार्थना पत्र वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एटा, राज्य महिला आयोग, आईजी रेंज आगरा, डीजीपी उत्तर प्रदेश, राज्य महिला आयोग दिल्ली और मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश को स्पीड पोस्ट के माध्यम से 2 नवंबर 2020 को भेजा था. इस पत्र में उन्होंने लिखा कि नामजद आरोपी मुझ पर व मेरे परिवार पर फैसले का दबाब बना रहे हैं, जिसके चलते हम अपनी बहन, मां सहित घर मे पालतू मवेशियों को लेकर पहले ही पलायन कर चुके हैं और आरोपी खुलियाम घूम रहे हैं. पुलिस कोई कार्रवाई नहीं कर रही है.

चाचा का आरोप- पुलिस की लापरवाही के चलते हत्या

मृतक के चाचा ने बताया कि पुलिस की लापरवाही के चलते मेरे भतीजे की हत्या कर दी गई है. 2 माह पूर्व उनकी भतीजी को गांव के ही लोग भगा ले गए थे. 161 व 164 के बयानों में नाम आने से नामजद आरोपियों ने रंजिशन मेरे भतीजे की आज गोली मारकर हत्या कर दी. भतीजा अरविंद शर्मा आज ही दिल्ली से घर वापस आया था और अपने घर पर ही था. तभी मौके का फायदा उठाते हुए उसकी हत्या कर दी. परिवार की सुरक्षा के लिए भतीजे ने पहले ही एसएसपी, आईजी, डीजीपी, माननीय मुख्यमंत्री और महिला आयोग तक गुहार लगाते हुए प्रार्थना पत्र डाक द्वारा भेज दिया था.

आरोपियों को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा: एसएसपी

वहीं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार सिंह ने बताया कि जसरथपुर के गांव में एक 22 वर्षीय युवक का शव मिला है. युवक के परिजनों ने पड़ोस की रहने वाले 4 लोगों पर हत्या का आरोप लगाया है. फील्ड यूनिट, क्राइम ब्रांच और आला अधिकारियों ने मौके पर जाकर मौका मुआयना कर लिया है और आरोपियों की तलाश की जा रही है. जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

आपके शहर से (एटा)

Tags: Crime in up, Etah news, Murder, Up news in hindi, UP news updates, UP police, Uttarpradesh news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें