एटा हत्याकांड: पुलिस के हत्थे चढ़ा Serial Rapist, 125 से ज्यादा महिलाओं को बनाया शिकार, कुल 6 गिरफ्तार
Etah News in Hindi

एटा हत्याकांड: पुलिस के हत्थे चढ़ा Serial Rapist, 125 से ज्यादा महिलाओं को बनाया शिकार, कुल 6 गिरफ्तार
एटा में महिला हत्याकांड का पुलिस ने सनसनीखेज खुलासा किया है.

एटा पुलिस (Etah Police) के अनुसार महिला से रेप करने में नाकाम होने के बाद उसकी हत्या कर दी गई थी. पहचान छुपाने के लिए उसके चेहरे को ईंट से कुचल दिया गया था.

  • Share this:
एटा. उत्तर प्रदेश के एटा (Etah) जनपद में 2 दिन पहले नगर कोतवाली क्षेत्र के पीपल अड्डा पर मैदान में पड़े मिले नग्न अवस्था में महिला के शव (Deadbody) के मामले का खुलासा हो गया है. पुलिस ने 6 लोगों केा गिरफ्तार किया है. इनमें एक सीरियल रेपिस्ट भी पुलिस के हत्थे चढ़ा है. पता चला है कि उसनके 125 से ज्यादा महिलाओं को शिकार बनाया है. वहीं उसके साथ गिरफ्तार बाकी 5 लोग भी हिस्ट्रीशीटर हैं. पुलिस के अनुसार महिला से रेप करने में नाकाम होने के बाद पहचान छुपाने के लिए  महिला की हत्या कर दी गई थी. पहचान छुपाने के लिए उसके चेहरे को ईंट से कुचल दिया गया था.

जनपद एटा के नगर कोतवाली क्षेत्र में महिला हत्याकांड का पुलिस ने खुलासा करते हुए 6 लोगों को दबोच लिया. पकड़े गए सभी अभियुक्त शातिर हिस्ट्रीशीटर हैं. पुलिस के अनुसार अभियुक्तों ने महिला की निर्मम हत्या से पहले रेप करने का प्रयास किया था. नाकाम होने पर पहचान छुपाने के उद्देश्य से महिला के चेहरे को ईंट से कुचलकर उसे मौत के घाट उतार दिया.

किराएदारों से पूछताछ में हुआ खुलासा



इस मामले में पुलिस ने 2 किरायेदारों को संदिग्ध मानते हुए हिरासत में लिया था, जब आरोपियों से कड़ाई से पूछताछ की गई तो घटना का खुलासा हो गया. घटना को अंजाम देने वाले अभियुक्त हेमंत, याली उर्फ दिनेश, त्रिवेंद्र, सुनील, बदन सिंह और अनिल यादव हत्या, चोरी, लूट, डकैती और बलात्कार जैसी गंभीर वारदातों में पूर्व में भी जेल जा चुके हैं.
फास्ट ट्रैक कोर्ट में सजा दिलाएंगे: एसएसपी

इस मामले में एसएसपी सुनील कुमार सिंह ने बताया कि अभियुक्त पूर्व में दुष्कर्म तथा महिला संबंधी वारदातों में जेल जा चुके हैं. गिरफ्तार अभियुक्त दिनेश 125 से ज्यादा महिलाओं को शिकार बना चुका है. अभियुक्तों के खिलाफ एनएसए और गैंगस्टर अधिनियम के तहत कार्यवाही की जा रही है. उन्होंने बताया कि अभियुक्तों का मामला फास्ट ट्रैक कोर्ट में लाकर प्रभावी रूप से कार्रवाई अमल में लाई जाएगी. अभियुक्तों को फास्ट ट्रैक कोर्ट के माध्यम से जल्द से जल्द सजा दिलाए जाने की कार्यवाही की जा रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज