एटा: 30 साल से फर्जी मार्कशीट पर नौकरी कर रहा था ये सरकारी बाबू

नगर पालिका के बाबू निरंकार सिंह यादव पर अपने पद का दुरुपयोग कर गृहकर, जल कर, दुकान किराया फर्जी रसीदें काटकर करोड़ों के गबन का आरोप है. ​

Manoj Srivastava | News18 Uttar Pradesh
Updated: September 2, 2018, 2:27 PM IST
एटा: 30 साल से फर्जी मार्कशीट पर नौकरी कर रहा था ये सरकारी बाबू
एएसपी संजय कुमार. Photo: News 18
Manoj Srivastava | News18 Uttar Pradesh
Updated: September 2, 2018, 2:27 PM IST
उत्तर प्रदेश के एटा में करोड़ों के गबन के आरोपी एक बाबू निरंकार सिंह यादव के बारे में जांच में सामने आया है कि उसने फर्जी मार्कशीट के आधार पर सरकारी नौकरी हासिल की. नगर पालिका के इस करोड़पति बाबू पर 30 साल से ज्यादा समय तक फर्जी मार्कशीट लगाकर नौकरी करने के मामले में अब शहर कोतवाली में एफआईआर दर्ज की है.

बता दें नगर पालिका के बाबू निरंकार सिंह यादव पर अपने पद का दुरुपयोग कर गृहकर, जल कर, दुकान किराया फर्जी रसीदें काटकर करोड़ों के गबन का आरोप है. ​कहा जाता है कि इस बाबू के खिलाफ आज तक जिस भी अधिकारी ने कार्रवाई करने की कोशिश की तो यह उसका अपने रसूख के चलते ट्रांसफर करवा देता था. मामले में गबन का आरोप लगा और विभागीय जांच हुई तो अब दस्तावेज खंगालने पर पता चला कि इसने ज्वाइनिंग के दौरान जो मार्कशीट दी, वह फर्जी है. मामले में डीएम के निर्देश पर शहर कोतवाली में बाबू निरंकार सिंह यादव पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है. पुलिस का कहना है कि एफआईआर दर्ज हो गई है, जांच की जा रही है. सभी तथ्यों को खंगाला जा रहा है.

जांच में पता चला कि 1986 में ये शख्स माली के पद पर भर्ती हुआ. इसके बाद इसने 1987 में फर्रुखाबाद के आत्मदेव गोपालानंद इंटर कॉलेज से इंटर की परीक्षा की मार्कशीट विभाग में लगा दी. इसके बाद इसने फर्जीवाड़ा करते हुए प्रमोशन हासिल कर लिया और बाबू बन गया. बाबू बनने के बाद इसने सरकारी टैक्स का गलत लाभ उठाया और पालिका के नाम पर खुद वसूली करने लगा.

जांच में सामने आया कि जिस रोल नंबर 0477765 की मार्कशीट इसने पेश की, वह इंटर की प्राइवेट छात्रा साधना सक्सेना के नाम की थी. ये खुलासा तब हुआ, जब​ एटा के पूर्व डीएम अमित किशोर ने एडीएम एफआर को इसके खिलाफ लगे आरोपों की जांच करने का आदेश दिया. अब जांच में दोषी पाए जाने के बाद निरंकार सिंह यादव के खिलाफ डीएम आईपी पांडेय ने नगर कोतवाली में मामला दर्ज कराने के निर्देश दिए हैं. मामले में एएसपी संजय कुमार ने बताया कि मामला दर्ज कर जांच की जा रही है.

ये भी पढ़ें: 

उन्नाव रेप केस: मुख्‍य गवाह यूनुस की FSL रिपोर्ट में नहीं हुई जहर से मौत की पुष्टि

मुजफ्फरनगर की महिला के साथ हरिद्वार के एक होटल में सामूहिक गैंगरेप
Loading...
खबर का असर: 68,500 पदों की शिक्षक भर्ती में छूट रहे इन 6 हजार अभ्यर्थियों की भी होगी नियुक्ति
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर