Assembly Banner 2021

COVID-19: 25 लाख की आबादी वाले एटा में एक भी पॉजिटिव केस नहीं, DM ने लोगों से कहा- शुक्रिया

एटा जिले में प्रशासन की मुस्तैदी से एक भी पॉजिटिव केस अभी तक सामने नहीं आया है (प्रतीकात्मक तस्वीर)

एटा जिले में प्रशासन की मुस्तैदी से एक भी पॉजिटिव केस अभी तक सामने नहीं आया है (प्रतीकात्मक तस्वीर)

जनपद एटा के जिलाधिकारी सुखलाल भारती ने बताया कि लॉकडाउन (Lockdown) का अनुपालन कराने के लिए पुलिस और प्रशासन की टीम लगातार जुटी हुई हैं. 25 मार्च से 28 मार्च तक बाहरी राज्यों से आए दिहाड़ी मजदूरों की स्क्रीनिंग कर उन्हें क्वारंटाइन (quarantine) किया गया

  • Share this:
एटा. महामारी (Pandemic) कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण से बचाव के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) के निर्देश पर देशव्यापी लॉक डाउन (Lock Down) है फिर भी कोरोना पॉजिटिव (Corona Positive) केस लगातार बढ़ रहे हैं. ऐसे में तकरीबन 25 लाख की आबादी वाला उत्तर प्रदेश का एटा जनपद भी उन जनपदों में शामिल है जहां अब तक एक भी पॉजिटिव केस सामने नहीं आए हैं. जिसका श्रेय काफी हद तक जिला प्रशासन को जाता है. जनपद प्रशासन पुलिस के साथ मिलकर योगी सरकार (Yogi Government) और प्रधानमंत्री के निर्देशों का तत्परता के साथ अनुपालन कर रहा है जिसके बेहतर परिणाम सामने आये हैं.

डीएम एटा ने लोगों को भी दिया धन्यवाद
जिलाधिकारी (डीएम) एटा के मुताबिक अभी तक जनपद की 25 लाख की आबादी में एक भी कोरोना पॉजिटिव केस सामने नहीं आया है. यह जिला प्रशासन और प्रदेश सरकार के लिए राहत भरी खबर है. जिलाधिकारी एटा सुखलाल भारती ने गुरुवार को पुलिस और प्रशासन के अधिकारियों का आभार व्यक्त करते हुए जनपदवासियों को भी धन्यवाद दिया. News 18 से बातचीत करते हुए डीएम एटा सुखलाल भारती ने बताया कि लॉक डाउन का अनुपालन कराने के लिए पुलिस और प्रशासन की टीम लगातार जुटी हुई हैं.  25 मार्च से 28 मार्च तक बाहरी राज्यों से आए दिहाड़ी मजदूरों की स्क्रीनिंग कर उन्हें क्वारंटाइन (Quarantine) किया गया. साथ ही जनपद को पूरे तरीके से सैनिटाइज किया गया. बॉर्डर पर करीब 40 हजार लोगों की स्क्रीनिंग की गई. साथ ही उन्होंने बताया कि जनपद में अब तक कोरोना को लेकर 125 लोगों के सैंपल लिए गए हैं, जिसमें से अब तक 49 लोगों की सैंपलिंग रिपोर्ट नेगेटिव आई है. जबकि शेष को अभी एहतियात के तौर पर क्वॉरेंटाइन किया गया है.

सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing) को लेकर डीएम एटा ने कहा कि पुलिस पूरी मुस्तैद है, मजिस्ट्रेट तैनात हैं. सब्जी मंडी के लिए नुमाइश मैदान में सोशल डिस्टेंसिंग को ध्यान में रखते हुए एक-एक मीटर दूर गोले बनाए गए हैं. राशन डीलरों के वितरण स्थल पर भी सोशल डिस्टेंसिंग के लिए गोले बनाए गए हैं. इसके अलावा बैंकों में भी सोशल डिस्टेंस की पूर्ण रूप से व्यवस्था कर अनुपालन करवाया जा रहा है. सोशल डिस्टेंसिंग के उल्लंघन में जनपद में कई लोगों के खिलाफ कार्रवाई भी की गई है.
डीएम ने बताया कि लॉकडाउन के दूसरे चरण में राशन डीलरों को निर्देशित किया गया है कि गरीब और मजदूर लोगों को पांच किलो चावल और राशन मुहैया कराया जाए. ड्रोन कैमरों से भी लगातार निगरानी की जा रही है. सोशल डिस्टेंसिंग के उल्लंघन में अब तक 17 लोगों के ऊपर कार्रवाई की जा चुकी है. ग्रामीण अंचल में नगर पंचायत स्तर पर छोटी मशीनों से लगातार सैनिटाइजेशन कराया जा रहा है. साथ ही शहरी इलाकों में फायर ब्रिगेड की गाड़ियों से गली-मोहल्लों को सैनेटाइज कराया जा रहा है.



ये भी पढ़ें- शराबी पिता से बदला लेने के लिए पुलिस में होना चाहती थी भर्ती, लेकिन भारी मन से छोड़ गई दुनिया..

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज