एटा: अपराधी को पकड़ने गई पुलिस टीम पर 100 से ज्यादा ग्रामीणों ने बोला हमला, जान बचाकर भागे पुलिसवाले

प्रशासन की मौजूदगी में ग्राम प्रधान के घर को गिराया गया. (फाइल फोटो)
प्रशासन की मौजूदगी में ग्राम प्रधान के घर को गिराया गया. (फाइल फोटो)

एटा के कोतवाली अलीगंज क्षेत्र के चमन नगरिया गांव में पुलिस (Police) एक वारंटी अपराधी को पकड़ने के लिए गई थी. लेकिन पुलिस की टीम को देखते ही 100 से 200 ग्रामीणों ने हमला (Attack) कर दिया.

  • Share this:
एटा. यूपी के एटा में अपराधी को पकड़ने गई पुलिस टीम (Police Team) पर लोगों ने हमला कर दिया. 100 से 200 की संख्या में ग्रामीणों (Villagers) ने पुलिस टीम पर पत्थरबाजी शुरू कर दी. जिसके बाद पुलिस टीम को मौके से जान बचाकर भागना पड़ा. इस सिलसिले में पुलिस ने 17 ज्ञात व 100 से 150 अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा (Case) दर्ज किया है.

जानकारी के मुताबिक जनपद एटा के कोतवाली अलीगंज क्षेत्र के चमन नगरिया गांव में सोमवार रात पुलिस एक वारंटी अपराधी को पकड़ने के लिए गई थी. जैसे ही टीम गांव पहुंची और अपराधी को पकड़ने की तैयारी में थी, कि तभी गांव के 100 से 200 लोगों ने पुलिस की टीम पर हमला कर दिया.  जिसके बाद पुलिस टीम को जान बचाकर गांव से भागना पड़ा. बाद में और भी फोर्स मौके पर पहुंचा, लेकिन गांववालों ने पुलिस पर पथराव कर दिया.

घटना के बाद गांव में भारी संख्या में पुलिस फोर्स की तैनात कर दी गई है. अपराधी की तलाश जारी है. उधर पुलिस पर हमले के मामले में अलीगंज कोतवाली थाने में विभिन्न धाराओं में 17 ज्ञात व 100 से 150 अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है.




कानपुर में भी इसी तरह विकास दुबे को पकड़ने गई पुलिस पर हमला कर दिया गया था. जिसमें कई पुलिसकर्मी शाहिद हो गए थे. कानपुर के बाद एटा पुलिस भी अपराधियों को पकड़ने के लिए अधूरी तैयारी के साथ गांव पहुंची थी. पुलिस की संख्या कम होने के कारण अपराधी पुलिस के हाथ से निकल गया, जबकि पुलिसकर्मियों को ग्रामीणों के गुस्से का सामना करना पड़ा. हालांकि गनीमत रही इस घटना में किसी पुलिसकर्मी को कोई नुकसान नहीं हुआ. घटना के बाद गांव को छाबनी में तब्दील कर दिया गया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज