अपना शहर चुनें

States

लड़की भगाने के आरोप में युवक को जिंदा जलाया, स्ट्रेचर न मिला तो एम्बुलेंस तक गया पैदल

गंभीर रूप से जले युवक को स्ट्रेचर तक न दे सका अस्पताल. Photo: News 18
गंभीर रूप से जले युवक को स्ट्रेचर तक न दे सका अस्पताल. Photo: News 18

स्वास्थ्य केन्द्र की बदहाली का आलम देखिये कि वहां गंभीर रूप से झुलसे युवक को स्ट्रेचर तक उपलब्ध नहीं कराया गया और उसे उसी हालत में एम्बुलेंस तक पैदल चलकर जाना पड़ा.

  • Share this:
उत्तर प्रदेश के एटा में लड़की को भगाने के आरोप में परिजनों ने एक युवक को बंधक बनाकर मिट्टी का तेल डालकर जिंदा जला दिया. युवक को जिंदा जलाए जाने की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने युवक को बेहद नाजुक हालत में अलीगढ़ के सामुदायिक स्वास्थ केन्द्र में भर्ती कराया. यहां गंभीर रूप से जल चुके युवक को चिकित्सकों ने आगरा के लिए रेफर कर दिया है. उधर युवक को जिंदा जलाने के बाद दबंग आरोपी मौके से फरार हो गए. पुलिस ने युवक के परिजनों की तहरीर पर मामला दर्ज कर आरोपियों की गिरफ्तारी के प्रयास शुरू कर दिए हैं.

जिंदगी और मौत से जूझता ये युवक थाना अलीगंज के गांव दहलई का रहने वाला नरेन्द्र शाक्य है. बताया जा रहा है कि गेवर उसदुल्लापुर के रहने वाले रामनरेश की नाबालिग पुत्री दो दिन से रहस्यमय ढंग से लापता है. परिजनों को शक था कि उनकी बेटी को नरेन्द्र भगा ले गया है, जिसके चलते लड़की के पिता रामनरेश उसके चाचा उमेश व दयानंद ने फोन कर नरेन्द्र को अपने घर बुलाया.

आरोप है कि जब नरेन्द्र जब उनके घर पहुंचा तो दबंगों ने उसे कमरे में बंद कर उसके साथ जमकर मारपीट की और उसे बंधक बना लिया. इसके बाद लड़की को भगाने के सवाल पर जब उन्हें कोई संतोषजनक जवाब नहीं मिला तो उन्होंने उसके ऊपर मिट्टी का तेल डालकर उसे जिंदा आग के हवाले कर दिया.



घटना के बाद आरोपी युवक को जिंदा जलाने के बाद मौके से फरार हो गए. नरेन्द्र की चीखें सुनकर आसपास के लोगों ने पुलिस को सूचना दी. मौके पर पहुंची पुलिस ने आनन-फानन मौके पर पहुंचकर नरेन्द्र को गंभीर अवस्था में अलीगंज के सामुदायिक स्वास्थ केन्द्र में भर्ती कराया. स्वास्थ्य केन्द्र की बदहाली का आलम देखिये कि वहां गंभीर रूप से झुलसे युवक को स्ट्रेचर तक उपलब्ध नहीं कराया गया और उसे उसी हालत में एम्बुलेंस तक पैदल चलकर जाना पड़ा.
फिलहाल गंभीर रूप से जल चुके युवक की हालत को देखते हुए चिकित्सकों ने उसे आगरा के लिए रेफर कर दिया है. वहीं सीओ अलीगंज अजय भदौरिया ने बताया कि युवक को जिंदा जलाये जाने के मामले में परिजनों की तहरीर पर पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपियों की गिरफ्तारी के प्रयास शुरू कर दिए हैं.

ये भी पढ़ें: 

News 18 Exclusive: यूपी के परिषदीय स्कूलों का हाल- दावा कॉन्वेंट का, टीचर एक भी नहीं

स्टैच्यू आॅफ यूनिटी पर बोलीं मायावती- बहुजन समाज से माफी मांगें बीजेपी और आरएसएस

जानिए अखिलेश ने क्यों कहा- सीएम योगी कमाल के हैं, जो बोलते हैं, अच्छा बोलते हैं

खून का काला कारोबार: सामने आया एक बुजुर्ग, कहा- मिलावटी खून चढ़ाने से हुई बेटे की मौत

हाशिमपुरा नरसंहार में 16 पीएसी जवानों को उम्रकैद, 42 लोगों की हुई थी हत्या
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज