Home /News /uttar-pradesh /

UP News: एटा जिला जेल में कोरोना विस्फोट, एक पुलिसकर्मी सहित 7 लोग मिले संक्रमित

UP News: एटा जिला जेल में कोरोना विस्फोट, एक पुलिसकर्मी सहित 7 लोग मिले संक्रमित

यूपी में कोरोना संक्रमण की वजह से कैदियों के आगंतुकों से मिलने पर रोक लगा दी गई थी.

यूपी में कोरोना संक्रमण की वजह से कैदियों के आगंतुकों से मिलने पर रोक लगा दी गई थी.

Corona Cases in Uttar Pradesh: बता दें कि पहले भी संक्रमण की वजह से कैदियों के आगंतुकों से मिलने पर रोक लगा दी गई थी. करीब 6 महीने के बाद अगस्त 2021 में कोरोना प्रोटोकॉल के साथ परिवार से मिलने की परमिशन दी गई थी. कोरोना महामारी की दूसरी लहर के दौरान कैदियों को उनके परिवार से मिलने पर रोक लगा दी गई थी. लेकिन अगस्त महीने में एक बार फिर से मिलने की परमिशन दे दी गई थी.

अधिक पढ़ें ...

एटा. यूपी में कोरोना संक्रमण (UP Corona Infection) और ओमिक्रॉन के मामले बढ़ते जा रहे है. इसी बीच एटा (Etah) जिला कारागार में एक पुलिसकर्मी सहित 6 बंदियों के कोरोना पॉजिटिव (Corona Positive) मिलने से हड़कंप मचा हुआ है. कोरोना संक्रमित निकले बंदियों को स्वास्थ्य विभाग की टीम ने जेल में स्थित एक कमरे में क्वारंटीन किया है. यहां पर ही उसका इलाज शुरू कर दिया गया है. लगातार बंदी की निगरानी की जाएगी. सूचना मिलने पर डीएम अंकित कुमार अग्रवाल ने जिला कारागार पहुंचकर कोविड से संक्रमित कैदियों से बातचीत कर हालचाल जाना. उन्होंने मौजूद चिकित्सक को समुचित देखभाल करने के निर्देश दिए हैं.

सीएमओ डॉ. उमेश कुमार त्रिपाठी ने बताया कि जेल में निरुद्ध 6 बंदी की आरटीपीसीआर में कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट आई है. उन्होंने बताया कि एक पुलिसकर्मी भी संक्रमित पाया गया है. इससे पहले अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी ने यूपी के पुलिस महानिदेशक के नाम एक पत्र जारी किया है. इस शासनादेश में कहा गया है कि जेल में बंद बंदियों को कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए अगले आदेश तक उन्हें परिवारों से मिलने की इजाजत नहीं दी जाए. इस आदेश को तत्काल प्रभाव से लागू किया जाए.

Pushpraj Jain IT Raid: पुष्पराज जैन के ठिकानों पर 50 घंटे से छापेमारी जारी, जानें सपा एमएलसी के घर से अब तक क्या-क्या मिला

बता दें कि पहले भी संक्रमण की वजह से कैदियों के आगंतुकों से मिलने पर रोक लगा दी गई थी. करीब 6 महीने के बाद अगस्त 2021 में कोरोना प्रोटोकॉल के साथ परिवार से मिलने की परमिशन दी गई थी. कोरोना महामारी की दूसरी लहर के दौरान कैदियों को उनके परिवार से मिलने पर रोक लगा दी गई थी. लेकिन अगस्त महीने में एक बार फिर से मिलने की परमिशन दे दी गई थी. सरकार ने यह कदम जेल में बंद कैदियों की सुरक्षा को देखते हुए उठाया है. कोरोना की दूसरी लहर के दौरान भी बड़ी संख्या मे जेल में बंद कैदी कोरोना संक्रमित हो गए थे.

Tags: CM Yogi, Corona Cases, Etah news, Jail Diary, Omicron Alert, UP news, Yogi government

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर