आधे घंटे तक जिला अस्पताल में तड़पती रही प्रसूता, नहीं मिली कोई चिकित्सकीय मदद, जमीन पर ही जन्मा बच्चा

दर्द से कराहती गर्भवती ने जमीन पर दिया बच्चे को जन्म
दर्द से कराहती गर्भवती ने जमीन पर दिया बच्चे को जन्म

मुख्य चिकित्सा अधिकारी (CMO) एटा अरविंद कुमार गर्ग ने इस मामले में जांच के आदेश दिए हैं. उन्होंने बताया कि इसमें जो भी दोषी होगा, उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 26, 2020, 9:18 PM IST
  • Share this:
एटा. यूपी के एटा (Etaha) में शनिवार को मानवता को शर्मसार कर देने वाली तस्वीर सामने आई. यहां के जिला महिला अस्पताल में दर्द से प्रसूता (Pregnant Women) कराहती रही, लेकिन उसे देखने वाला कोई नहीं था. दर्द से कराहती प्रसूता ने जमीन पर ही बच्चे को जन्म दे दिया. परिजनों का आरोप था कि अस्पताल में होने के बावजूद आधे घंटे बाद स्वास्थ्य सुविधाएं मिल पाई हैं. वहीं जिला अस्पताल के सीएमएस डॉ राजेश अग्रवाल के मुताबिक जैसे ही जानकारी हुई तत्काल स्वास्थ्य सुविधाएं प्रसूता को उपलब्ध कराई गई.

जानकारी के मुताबिक, एटा के कस्बा अलीगंज निवासी गीता को परिजन आज सुबह प्रसव पीड़ा होने पर प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र (पीएचसी) अलीगंज लेकर पहुंचे. यहां प्रसूता की तबीयत बिगड़ गई तो चिकित्सकों ने उसे जिला अस्पताल एटा के लिए रेफर कर दिया. परिजन उसे लेकर जिला महिला चिकित्सालय पहुंचे. परिजन बॉबी का आरोप है कि आधे घंटे तक महिला जमीन पर तड़पती रही. लेकिन कोई चिकित्सकीय सुविधा नहीं मिली.

ये भी पढे़ं- भदोही: बाहुबली MLA विजय मिश्र की बढ़ी मुश्किलें, एक और FIR दर्ज



प्रसव हो जाने के बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम ने महिला को महिला जिला अस्पताल में भर्ती कराया है. जहां उसे इलाज दिया जा रहा है. परिजनों ने बताया है कि महिला का इलाज इससे पहले अलीगंज स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में चल रहा था. मुख्य चिकित्सा अधिकारी (CMO) एटा अरविंद कुमार गर्ग ने इस मामले में जांच के आदेश दिए हैं. उन्होंने बताया कि इसमें जो भी दोषी होगा, उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज