नाबालिग को तमंचा दिखाकर 4 महीने तक किया रेप, प्रेग्नेंट होने पर दबगों ने की गर्भपात की कोशिश

कोतवाली पुलिस मामले की जांच कर रही है.

कोतवाली पुलिस मामले की जांच कर रही है.

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के एटा जिले में एक नाबालिग के साथ युवक द्वारा तमंचे के बल पर चार महीने तक रेप (Rape) की घटना को अंजाम देने का एक सनसनी खेज मामला सामने आया है.

  • Share this:

अजेन्द्र शर्मा

एटा. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के एटा जिले में एक नाबालिग के साथ युवक द्वारा तमंचे के बल पर चार महीने तक रेप (Rape) की घटना को अंजाम देने का एक सनसनी खेज मामला सामने आया है. इतना ही रेप की वजह से नाबालिग गर्भवती हो गयी तो उसके पेट मे पल रहे बच्चे को नष्ट करने के उद्देश्य से डॉक्टरों के साथ मिलकर दबंगो ने कोशिश की है, जिसकी शिकायत पर अलीगंज कोतवाली में एफआईआर दर्ज हुई है. कोतवाली अलीगंज के अंतर्गत एक गांव में अपनी बहन के घर आई नाबालिग लड़की (जिसकी उम्र 15 बर्ष बताई जा रही है) के साथ पड़ोस के एक दबंग युवक ने अपने भाई के साथ मिलकर तमंचे के बल पर 4 माह तक रेप किया.

शिकायत के मुताबिक जब नाबालिग लड़की अपनी बहन के घर से अपने घर गयी तो 3 माह बाद लड़की के पेट मे दर्द हुआ, जिसकी जानकारी उसने अपने परिजनों को दी. परिजन जब उसे डॉक्टर के पास ले गए तो डॉक्टरों ने बताया कि बच्ची के पेट मे 7 माह का बच्चा है. जिसकी वजह से उसके पेट मे दर्द हुआ है. जब यह बात परिजनों ने सुनी तो भौचक्के रह गए और नाबालिग से कड़ाई से पूछताछ की तब उसने बताया कि जम हम अपनी बहन के यहां गए थे, तभी पड़ोस के लड़के ने मेरे साथ तमंचा दिखाकर गलत काम किया था.

आपस में ही सुलह कराने की कोशिश
शिकायत के मुताबिक जब नाबालिग के साथ हुए गलत काम की जानकारी परिजनों को हुई तो परिजन लड़की को लेकर अलीगंज के उस गांव में पहुंचे जहां यह घटना घटित हुई. वहां कुछ लोगों को एकत्रित करके इसकी जानकारी दी गयी. जानकारी होने पर वहां के लोगों ने पंचायत कराने की कोशिश की, लेकिन मामला बना नहीं. नाबालिग के पिता ने लिखाई एफआईआर में बताया कि जब मेरी बेटी के पेट में पल रहे बच्चे की जानकारी नामजद दबंगो को हुई तो डॉक्टर से मिलकर इन लोगों ने बच्चे को मारने के उद्देश्य से इंजेक्शन लगवाए जब वहां पुलिस आ गयी तो आरोपी भाग खड़े हुए.

बच्चे को जन्म

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार 28 मई को नाबालिक लड़की को पुत्र हुआ है, जिसका वजन 1 किलोग्राम बताया जा रहा है. बच्चे को पेट मे ही मारने के उद्देश्य से दी गयी दवाई के चलते यह बच्चा मात्र 7 माह में ही पैदा हो गया. नाबालिग मां और नवजात दोनों की तबियत ठीक नहीं बताई जा रही है. इस मामले में अलीगंज के प्रभारी निरीक्षक अशोक कुमार सिंह ने बताया कि 27 मई को मेरे पास शाम के समय कुछ लोग आए थे, उन्होंने बताया कि मेरी नाबालिग बेटी के साथ रेप हुआ है. तहरीर आने पर मामला दर्ज कर लिया गया है. नामजद आरोपियों को पकड़ने के लिए टीम बनाकर दबिशें दी जा रही हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज