पति के एनकाउंटर का डर दिखा 5 महीने किया रेप, प्रेग्नेंट हुई तो खुला पुलिसवालों का भेद

महिला के मुताबिक उसके पति को फर्जी एनकाउंटर में मारने की धमकी देकर दोनों पुलिसवाले पांच महीने तक उसका बलात्कार करते रहे, जिसके बाद वह गर्भवती हो गई.

News18 Uttar Pradesh
Updated: July 11, 2019, 8:06 PM IST
पति के एनकाउंटर का डर दिखा 5 महीने किया रेप, प्रेग्नेंट हुई तो खुला पुलिसवालों का भेद
ऐटा में पुलिवालों ने किया महिला से रेप (प्रतीकात्मक फोटो)
News18 Uttar Pradesh
Updated: July 11, 2019, 8:06 PM IST
यूं तो यूपी पुलिस के नित नए कारनामें देखने को मिलते हैं. पर अगर समाज की सुरक्षा का जिन पर हो वहीं अगर भक्षक बन जाएं तो क्या होगा. उत्तर प्रदेश के एटा में दो पुलिसवालों पर एक महिला से रेप का मामला सामने आया है. महिला का आरोप है कि पिछले पांच महीनों से दो पुलिसवाले उसे अपनी हवस का शिकार बना रहे थे. पीड़िता की शिकायत पर दोनों पुलिवालों को सस्पेंड कर दिया गया है.

इस घटना का खुलासा तब हुआ जब पीड़ित महिला गर्भवती हो गई. महिला के मुताबिक उसके पति को फर्जी एनकाउंटर में मारने की धमकी देकर दोनों पुलिसवाले पांच महीने तक उसका बलात्कार करते रहे जिसके बाद वह गर्भवती हो गई. महिला ने कहा कि उसके पेट में पल रहा बच्चा आरोपी दरोगा का है.



इतना ही नहीं महिला ने यह भी आरोप लगाया कि दरोगा योगेश तिवारी और प्रेम कुमार गौतम एक ही कमरे में बारी-बारी से उसे अपनी हवस का शिकार बनाते थे और अश्लील वीडियो बनाकर वायरल करने की धमकी भी देते थे.

जानकारी के मुताबिक दोनों आरोपी पुलिसकर्मी पहली बार महिला के घर उसके पति के खिलाफ वारंट लेकर पहुंचे थे. घर में महिला को अकेली देखकर उनकी नीयत खराब हो गई. दोनों आरोपी एटा के अवागढ़ थाने में तैनात थे और एक ही साथ रहा करते थे.

वहीं मामले की गंभीरता को देखते हुए एटा के प्रभारी एसएसपी संजय कुमार ने दोनों आरोपी दरोगा के खिलाफ अवागढ़ थाने में एफआईआर दर्ज करा दी है और तत्काल कार्रवाई करते हुए उन्हें निलंबित भी कर दिया है.

ये भी पढ़ें: 

प्रेमी संग घर से भागी थी युवती, अब लगाया रेप का आरोप
Loading...

एटा में महिला ने दिया 3 सिर वाली बच्ची को जन्म, हर कोई हैरान

 
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...