LIVE NOW

सुबोध कुमार को नम आंखों से दी गई विदाई, बड़े बेटे ने दी मुखाग्नि

इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह को उनके बड़े बेटे श्रेय कुमार सिंह ने एटा जिले के उनके गांव में मुखाग्नि दी. बुलंदशहर में सोमवार को गोकशी को लेकर भड़की अफवाह में इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की हत्या कर दी गई थी. इंस्पेक्टर सुबोध कुमार को श्रद्धांजलि देने के लिए लोगों का जन सैलाब उमड़ा हुआ था.

Hindi.news18.com | December 4, 2018, 8:13 PM IST
facebook Twitter Linkedin
Last Updated December 4, 2018

हाइलाइट्स

4:36 pm (IST)

एटा: शहीद इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह को नम आंखों से दी गई अंतिम विदाई. पैतृक गांव तरगवां में अंत्येष्टि स्थल पर बड़े बेटे श्रेय ने शहीद पिता को दी मुखाग्नि. शहीद को नम आंखों से अंतिम विदाई के लिए उमड़ा लोगों का सैलाब. 

4:25 pm (IST)
3:46 pm (IST)
3:44 pm (IST)

एटा: परिजनों ने इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की अर्थी को रोका, अंतिम संस्कार में सीएम योगी आदित्यनाथ को बुलाने पर अड़े. ग्रामीणों   से हुई नोंकझोंक 


3:41 pm (IST)
2:04 pm (IST)
LOAD MORE
इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह को उनके बड़े बेटे श्रेय कुमार सिंह ने एटा जिले के उनके गांव में मुखाग्नि दी. बुलंदशहर में सोमवार को गोकशी को लेकर भड़की अफवाह में इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की हत्या कर दी गई थी. इस दौरान इंस्पेक्टर सुबोध कुमार को श्रद्धांजलि देने के लिए लोगों का जन सैलाब उमड़ा हुआ था. इससे पहले परिजनों ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए बुलाने की मांग की थी.

इंस्पेक्टर सुबोध कुमार की अर्थी को भी परिजनों और ग्रामीणों ने ही रोक दिया. परिजनों और पुलिस अधिकारियों के बीच सीएम योगी को बुलाने के लिए नोकझोंक भी हुई. अधिकारियों के समझाने के बाद परिजन अंतिम संस्कार के लिए राजी हो गए. इसके बाद नम आंखों से वहां मौजूद भीड़ ने इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह को अंतिम विदाई दी.

फोटो

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

चिंता के विचार आपकी ख़ुशी को बर्बाद कर सकते हैं। ऐसा न होने दें, क्योंकि इनमें अच्छी चीज़ों को ख़त्म करने की और समझदारी में निराशा का ज़हरीला बीज बोने की क्षमता होती है। ख़ुद को हमेशा अच्छा परिणाम पाने के लिए प्रोत्साहित करें और ख़राब हालात में भी कुछ-न-कुछ अच्छा देखने का गुण विकसित करें। ख़ास लोग ऐसी किसी भी योजना में रुपये लगाने के लिए तैयार होंगे, जिसमें संभावना नज़र आए और विशेष हो। भूमि से जुड़ा विवाद लड़ाई में बदल सकता है। मामले को सुलझाने के लिए अपने माता-पिता की मदद लें। उनकी सलाह से काम करें, तो आप निश्चित तौर पर मुश्किल का हल ढूंढने में क़ामयाब रहेंगे। किसी से अचानक हुई रुमानी मुलाक़ात आपका दिन बना देगी। काम के लिए समर्पित पेशेवर लोग रुपये-पैसे और करिअर के मोर्चे पर फ़ायदे में रहेंगे। सफ़र के लिए दिन ज़्यादा अच्छा नहीं है। जीवनसाथी के ख़राब व्यवहार का नकारात्मक असर आपके ऊपर पड़ सकता है। स्वयंसेवी कार्य या किसी की मदद करना आपकी मानसिक शांति के लिए अच्छे टॉनिक का काम कर सकता है। परेशान? आप पंडित जी से प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज