UP: इटावा में डीसीएम पलटने से 10 श्रद्धालुओं की मौत, मृतकों के परिवारों को 2 लाख की आर्थिक सहायता

इटावा में भीषण सड़क हादसा

इटावा में भीषण सड़क हादसा

घायलों को जिला अस्पताल भेजा जा रहा है. मौके पर पुलिस (Police) के अधिकारी मौजूद है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 10, 2021, 6:34 PM IST
  • Share this:
इटावा. उत्तर प्रदेश के इटावा (Etawah) में शनिवार शाम एक भीषण सड़क (Road Accident) हादसा सामने आया है. इस घटना में 10 श्रद्धालुओं की मौत हो गई, जबकि कई लोग गंभीर रूप से घायल हैं. जानकारी के मुताबिक आगरा के लाखन मंदिर से डीसीएम से 100 लोग मुंडन संस्कार में जा रहे थे. इटावा में झंडा मंदिर मोड़ पर अचानक डीसीएम पलट गई और सड़क किनारे खाई में जा गिरी. जिसमें 10 लोगों की मौत हो गई. घायलों को जिला अस्पताल भेजा जा रहा है. मौके पर पुलिस के अधिकारी मौजूद है.

घायल श्रद्धालुओं में अधिक गंभीर होने पर आठ को सैफई मेडिकल कालेज रेफर किया गया है. सभी श्रद्धालु पिनाहट आगरा के रहने वाले हैं. बताया जा रहा है कि खिड़किया, रामलीला ग्राउंड पिनाहट, आगरा के रहने वाले वीरेंद्र सिंह बघेल के घर पर सात माह पहले बेटे का जन्म हुआ था. बेटे के जन्म की खुशी में वह परिवार व रिश्तेदारों के साथ लखना कालका मंदिर में झंडा चढ़ाने के लिए शनिवार को घर से डीसीएम में सवार होकर निकले थे.

UP में कोरोना का कोहराम, एक दिन में रिकॉर्ड 12,787 नए संक्रमित, लखनऊ में आंकड़ा 4 हजार पार

डीसीएम आगरा-चकरनगर रोड पर कसौआ गांव के सामने अनियंत्रित हो गई और सड़क के किनारे स्थित 20 फिट गहरी खाई में जाकर पलट गई. डीसीएम पलटने से उसने सवार सभी महिला पुरुष श्रद्धालु दब गए और चीख पुकार मच गई. राहगीरों की सूचना पर पहुंची बढ़पुरा पुलिस ने जैसे-तैसे सभी को निकाला और आनन फानन में जिला अस्पताल भेजा गया. जिला अस्पताल पहुंचने पर डाक्टरों ने 10 श्रद्धालुओं को मृत घोषित कर दिया. अन्य 30 श्रद्धालुओं का इलाज किया जा रहा है. घटना से जिले में हड़कंप मच गया.
सीएम योगी ने जताया शोक

उधर, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जनपद इटावा में एक सड़क दुर्घटना में लोगों की मृत्यु पर गहरा शोक व्यक्त किया है. उन्होंने दिवंगत आत्मा की शांति की कामना करते हुए शोक संतप्त परिजनों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की है. उन्होंने इस दुर्घटना में मृतकों के आश्रितों को 2-2 लाख रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान करने के निर्देश दिए हैं. मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को तत्काल मौके पर पहुंचकर राहत व बचाव कार्य पूरी तेजी से संचालित करने के निर्देश देते हुए कहा कि दुर्घटना में घायल लोगों के उपचार की समुचित व्यवस्था की जाए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज